DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   महाराष्ट्र  ›  कोरोना पर धीरे-धीरे काबू पा रहा महाराष्ट्र, 28 हजार नए मामले, मुंबई में हजार से भी नीचे पहुंचा आंकड़ा

महाराष्ट्रकोरोना पर धीरे-धीरे काबू पा रहा महाराष्ट्र, 28 हजार नए मामले, मुंबई में हजार से भी नीचे पहुंचा आंकड़ा

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीPublished By: Madan Tiwari
Tue, 18 May 2021 09:05 PM
कोरोना पर धीरे-धीरे काबू पा रहा महाराष्ट्र, 28 हजार नए मामले, मुंबई में हजार से भी नीचे पहुंचा आंकड़ा

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के नए मामले कुछ दिन पहले की तुलना में काफी कम हो गए हैं। राज्य में मंगलवार को करीब 28 हजार नए मामले सामने आए हैं, जबकि राजधानी मुंबई में यह आंकड़ा हजार से भी नीचे पहुंच गया है। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में 52 हजार से ज्यादा मरीज बीमारी से ठीक भी हुए हैं। मालूम हो कि राज्य में कोरोना वायरस को रोकने के लिए लंबे समय से लॉकडाउन की तरह की पाबंदियां लागू हैं। एक समय राज्य में रोजाना 60 हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे थे। इस हिसाब से अब सामने आने वाले मामलों की संख्या काफी कम है।

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 28,438 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 54,33,506 हो गई है। इस दौरान 52,898 लोग डिस्चार्ज हुए हैं। अभी तक कुल 49,27,480 लोग बीमारी से ठीक हो चुके हैं। बीते एक दिन में 679 लोगों की जान जाने के बाद मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 83,777 हो गया है। वहीं, अभी भी महाराष्ट्र में 4,19,727 लोग हैं, जिनका या तो होम क्वारंटाइन या फिर अस्पतालों में कोरोना का इलाज चल रहा है।

वहीं, महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में कोरोना के हजार से भी कम मामले सामने आए हैं, जिसे बड़ी उपलब्धि माना जा रहा है। पिछले 24 घंटे में शहर में सिर्फ 953 नए मामले मिले हैं, जबकि 2258 लोग रिकवर हुए हैं। शहर में 44 और लोगों की कोरोना के चलते जान चली गई।  उधर, राज्य में म्यूकरमाइकोसिस (ब्लैक फंगस) बीमारी भी तेजी से बढ़ रही है। इसके चलते राज्य सरकार ने मंगलवार को कहा कि म्यूकरमाइकोसिस रोगियों को पीएमजेएवाई और एमजेपीजेएवाई सरकारी स्वास्थ्य बीमा योजनाओं में शामिल किया जाएगा। 

एक सरकारी आदेश (जीआर) में कहा गया है कि इस बीमारी से पीड़ित लोगों का राज्य की महात्मा ज्योति राव फुले जन आरोग्य योजना (एमजेपीजेएवाई) तथा केन्द्र की प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएमजेएवाई) के तहत इलाज किया जाएगा, जिसमें एक परिवार को 1.50 लाख रुपये का स्वास्थ्य कवर मिलता है। जीआर में कहा गया है कि म्यूकरमाइकोसिस रोगियों को 11 सर्जिकल पैकेज और आठ मेडिकल पैकेज प्रदान किए जाएंगे।

संबंधित खबरें