फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News महाराष्ट्रये सामान्य, यहां वफादारी के बदले नाराजगी है, बागी विधायकों पर शिवसैनिकों के गुस्से पर बोले अशोक चव्हाण

ये सामान्य, यहां वफादारी के बदले नाराजगी है, बागी विधायकों पर शिवसैनिकों के गुस्से पर बोले अशोक चव्हाण

Maharashtra Political Criss: शिंदे गुट के विधायकों के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन जारी है। इस बीच कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने इसे सामान्य घटना बताई है और कहा कि यहां वफादार शिवसैनिकों के बीच नाराजगी है।

ये सामान्य, यहां वफादारी के बदले नाराजगी है, बागी विधायकों पर शिवसैनिकों के गुस्से पर बोले अशोक चव्हाण
shiv sainik protest
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,मुंबईSat, 25 Jun 2022 02:52 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

Maharashtra Political Crisis: शिवसेना के बागी विधायकों के खिलाफ शिवसैनिकों में गुस्सा फूट पड़ा है। शिवसैनिक सड़क पर उतर गए हैं और शिंदे गुट के विधायकों के खिलाफ जमकर हिंसक प्रदर्शन चल रहा है। इस बीच कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने इसे सामान्य घटना बताई है और कहा कि यहां वफादार शिवसैनिकों के बीच नाराजगी है जो बागी विधायकों के खिलाफ जाहिर की जा रही है।

उधर, मुंबई में पुलिस ने ऐहतियातन धारा 144 लागू कर दी है। शिवसैनिकों ने पुणे में एकनाथ शिंदे गुट के बागी विधायक तानाजी शिंदे के दफ्तर में तोड़फोड़ की। इससे पहले बीते रोज कुर्ला में भी बागी विधायक मंगेश कुडालकर के दफ्तर में तोड़फोड़ की गई थी। पुलिस ने शिंदे के आवास पर सुरक्षा बढ़ा दी है। साथ ही सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जा रही है।

शुक्रवार को कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने कहा, 'MVA हिंसा का समर्थन नहीं करती है। यहां वफादार शिवसैनिकों के बीच नाराजगी है, जो वफादारी बदलने वाले बागी विधायकों के खिलाफ नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। यह कानून और व्यवस्था की स्थिति नहीं है। यह सामान्य है।"

बागियों पर फूट रहा शिवसैनिकों का गुस्सा
शिवसेना में पड़ी दरार के बाद शिवसैनिकों में उबाल है। सड़क पर उतरे शिवसैनिक बागी विधायकों के खिलाफ अपना गुस्सा निकाल रहे हैं। बता दें कि एकनाथ शिंदे शिवसेना के 37 से 38 विधायकों को लेकर गुवाहाटी में डेरा जमाए हुए हैं। शिवसेना नेताओं का कहना है कि बागियों को मनाने की कई कोशिश की जा चुकी है लेकिन वो मानने को तैयार नहीं है, ऐसे में अब आर-पार की लड़ाई है। शनिवार को पुणे में और शुक्रवार को कुर्ला में शिवसेना के बागी विधायक के दफ्तर में तोड़फोड़ की गई।

शिंदे आवास की सुरक्षा बढ़ाई
शिवसैनिकों के बीच बढ़ते रोष के बाद एकनाथ शिंदे गुट के विधायकों के घरों की सुरक्षा को लेकर पुलिस अलर्ट मोड पर है। शिंदे के आवास पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। साथ ही सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जा रही है। मुंबई में पुलिस ने धारा 144 लागू कर दी है।

संजय राउत बोले- सड़क पर उतर गए तो आग लग जाएगी
शिवसेना के राज्यसभा सासंद संजय राउ का बागी विधायकों के खिलाफ गुस्सा निकला है। उन्होंने हालांकि कहा है कि शिवसेना के किसी भी बागी विधायक की सुरक्षा वापस नहीं ली गई है। शिंदे कैंप के विधायक अभी महाराष्ट्र से बाहर हैं, जब वे आएंगे तो उनसे बातचीत की जाएगी। राउत ने कहा कि हमें भरोसा है कि महाराष्ट्र लौटने के बाद सभी बागी विधायक हमारे कैंप में आ जाएंगे। राउत ने ये भी कहा कि हम नामर्द नहीं है। इस पूरे घटनाक्रम से शिवसेना के कार्यकर्ताओं में उबाल है। फिलहाल कार्यकर्ता अपने घरों में हैं लेकिन अगर वे सड़कों पर उतर गए तो फिर आग लग जाएगी।