फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News महाराष्ट्ररेप करके नाबालिग को सिगरेट से जलाया फिर सिर मुंडवा दिया, महाराष्ट्र से सनसनीखेज मामला

रेप करके नाबालिग को सिगरेट से जलाया फिर सिर मुंडवा दिया, महाराष्ट्र से सनसनीखेज मामला

यह मामला उस वक्त सामने आया जब स्थानीय लोगों ने पुलिस थाने में इसकी शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद गणेश को 18 नवंबर को गिरफ्तार कर लिया गया और उसे 21 तारीख तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।

रेप करके नाबालिग को सिगरेट से जलाया फिर सिर मुंडवा दिया, महाराष्ट्र से सनसनीखेज मामला
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,मुंबईMon, 20 Nov 2023 10:41 PM
ऐप पर पढ़ें

महाराष्ट्र के अकोला में 14 साल की लड़की के रेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने 29 साल के आरोपी को गिरफ्तार किया है जो पहले भी आपराधिक गतिविधियों में शामिल रहा है। नाबालिग का बलात्कार करने के साथ ही उसे सिगरेट के बट से जलाया गया और जबरन गंजा भी कर दिया गया। आरोपी की पहचान गणेश कुमरे के तौर पर हुई जो पीड़िता का बीते 2 साल से शोषण कर रहा था। FIR के हवाले से पुलिस अधिकारी ने बताया, 'खदान इलाके में गणेश अपनी गुंडई के लिए बदनाम है। उसने 15 और 16 नवंबर को नागलिग लड़की के साथ दुष्कर्म किया। उसने पीड़िता को सिगरेट से जलाया और जबरन उसका सिर भी मुंडवा दिया।' 

इस क्रूर अपराध पर राज्य के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि इस मामले में बेहद सख्त ऐक्शन लिया जाएगा। नागपुर में सोमवार को रिपोर्टर्स से बात करते हुए फडणवीस ने कहा, 'जिन लोगों ने भी इस अपराध को अंजाम दिया है उन्हें इसके नतीजे भुगतने होंगे। इस मामले को लेकर जांच के आदेश जारी हो चुके हैं।' दूसरी ओर, पुलिस ऑफिसर ने कहा कि पीड़िता के पिता मजदूर के तौर पर काम करते हैं। गणेश क्रिमिनल बैकग्राउंड वाला है। वह बीते 2 सालों से लड़की के साथ दुष्कर्म कर रहा था। 

स्थानीय लोगों ने पुलिस थाने में दर्ज कराई शिकायत 
यह मामला उस वक्त सामने आया जब 16 नवंबर को स्थानीय लोगों ने पुलिस थाने में इसकी शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद गणेश को 18 नवंबर को गिरफ्तार कर लिया गया और उसे 21 तारीख तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। इस मामले में भारतीय दंड संहिता की धारा 363 (अपहरण के लिए सजा), 376 (बलात्कार के लिए सजा), 354 (महिला की गरिमा को ठेस पहुंचाने के इरादे से उस पर हमला या आपराधिक बल) और खतरनाक हथियारों से चोट पहुंचाने के आरोप के तहत केस दर्ज किया गया है। पुलिस अधिकारी ने कहा कि यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण अधिनियम (POSCO) के तहत भी केस दर्ज हुआ है। अधिकारियों का कहना है कि मामले को लेकर आगे की जांच जारी है।