फोटो गैलरी

Hindi News महाराष्ट्रअशोक चव्हाण के बाद पूर्व MLC ने छोड़ी कांग्रेस, संजय निरुपम पर भी लग रहे कयास

अशोक चव्हाण के बाद पूर्व MLC ने छोड़ी कांग्रेस, संजय निरुपम पर भी लग रहे कयास

संजय निरुपम ने एक्स पर पोस्ट किया, 'अशोक चव्हाण यकीनन पार्टी के लिए असेट थे। कोई उन्हें लायब्लिटी कह रहा है, कोई ED को जिम्मेदार ठहरा रहा है, यह सब जल्दबाजी में दिया हुआ रिएक्शन है।'

अशोक चव्हाण के बाद पूर्व MLC ने छोड़ी कांग्रेस, संजय निरुपम पर भी लग रहे कयास
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,मुंबईMon, 12 Feb 2024 05:03 PM
ऐप पर पढ़ें

महाराष्ट्र में कांग्रेस को सोमवार को तगड़ा झटका लगा। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के दिग्गज नेता अशोक चव्हाण ने हाथ का साथ छोड़ दिया। चव्हाण के कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देने के बाद अमरनाथ राजुरकर ने भी पार्टी छोड़ दी। इस तरह, एक दिन के भीतर महाराष्ट्र कांग्रेस को दोहरा झटका लगा है। मालूम हो कि राजुरकर विधान परिषद के पूर्व सदस्य हैं और उन्हें चव्हाण का करीबी माना जाता रहा है। कांग्रेस में पार्टी नेताओं के इस्तीफे का सिलसिला यहीं पर रुकता नजर नहीं आ रहा है। अब सीनियर लीडर संजय निरुपम के भी कांग्रेस छोड़ने के कयास लग रहे हैं। दरअसल, उन्होंने अशोक चव्हाण के कांग्रेस छोड़ने के फैसले का बचाव किया है और इसके लिए पार्टी आलाकमान को जिम्मेदार ठहराया है।

संजय निरुपम ने एक्स पर पोस्ट किया, 'अशोक चव्हाण यकीनन पार्टी के लिए असेट थे। कोई उन्हें लायब्लिटी कह रहा है, कोई ED को जिम्मेदार ठहरा रहा है, यह सब जल्दबाजी में दिया हुआ रिएक्शन है। वे बुनियादी तौर पर महाराष्ट्र के एक नेता की कार्यशैली से बहुत परेशान थे। इसकी जानकारी उन्होंने समय-समय पर शीर्ष नेतृत्व को दिया था। अगर उनकी शिकायतों को गंभीरता से लिया जाता तो यह नौबत नहीं आती।' उन्होंने अशोक चव्हाण की तारीफ करते हुए कहा कि वह साधन-संपन्न है, कुशल संगठक है, जमीनी पकड़ रखते हैं और सीरीयस नेता हैं। 

अशोक चव्हाण की तारीफ में क्या बोले निरुपम
संजय निरुपम भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से पूर्व सांसद और मुंबई क्षेत्रीय कांग्रेस समिति के पूर्व अध्यक्ष रहे हैं। उन्होंने अशोक चव्हाण को लेकर आगे कहा कि भारत जोड़ो यात्रा जब पिछले साल नांदेड़ में 5 दिनों के लिए थी, तब समस्त नेतृत्व ने उनकी क्षमता का साक्षात दर्शन किया था। चव्हाण का कांग्रेस छोड़ना हमारे लिए बड़ा नुकसान है। इसकी भरपाई कोई नहीं कर पाएगा। उन्हें संभालने की जिम्मेदारी सिर्फ और सिर्फ हमारी थी। मीडिया में सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि निरुपम भी पार्टी हाई कमान से नाराज चल रहे हैं। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि वह भी जल्द ही कांग्रेस का हाथ छोड़ सकते हैं।

नेताओं पर जांच एजेंसियों का दबाव, कांग्रेस का दावा 
अशोक चव्हाण के साथ छोड़ने पर कांग्रेस की ओर से कहा गया कि जो लोग ऐसे कदम उठा रहे हैं, उन पर जांच एजेंसियों का दबाव है। पार्टी महासचिव जयराम रमेश ने कहा कि जो नेता किसी न किसी वजह से खुद को असुरक्षित महसूस करते हैं कि उनके लिए BJP की वाशिंग मशीन वैचारिक प्रतिबद्धता के मुकाबले ज्यादा आकर्षक रहेगी। उन्होंने पोस्ट किया, 'जब मित्र और सहकर्मी उस राजनीतिक दल को छोड़ देते हैं जिसने उन्हें बहुत कुछ दिया है- शायद उससे भी अधिक जिसके वे हकदार थे, तो यह हमेशा पीड़ा का विषय होता है। लेकिन जो लोग असुरक्षित महसूस करते हैं, उनके लिए वह वॉशिंग मशीन हमेशा वैचारिक प्रतिबद्धता या व्यक्तिगत वफादारी से अधिक आकर्षक साबित होगी।'

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें