Monday, January 24, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ महाराष्ट्रसमीर वानखेड़े से पूछताछ के बाद लिए गए अहम दस्तावेज, NCB के जांच अधिकारी ने गवाहों से सामने आकर सबूत देने को कहा

समीर वानखेड़े से पूछताछ के बाद लिए गए अहम दस्तावेज, NCB के जांच अधिकारी ने गवाहों से सामने आकर सबूत देने को कहा

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीNishant Nandan
Wed, 27 Oct 2021 08:10 PM
समीर वानखेड़े से पूछताछ के बाद लिए गए अहम दस्तावेज, NCB के जांच अधिकारी ने गवाहों से सामने आकर सबूत देने को कहा

इस खबर को सुनें

एनसीबी मुंबई जोनल के निदेशक समीर वानखेड़े पर लगे आरोपों को लेकर उनसे पूछताछ की गई है। एनसीबी के उप महानिदेशक ने बुधवार को मीडिया से बातचीत में कहा, 'आज समीर वानखेड़े से पूछताछ की गई है। केस से जुड़े जो कागजात उनसे मांगे गए थे वो उन्होंने सौंपे हैं। अगर जरुरत पड़ी तब उनसे आगे भी पूछताछ की जाएगी। वो तब तक मुंबई क्रूज ड्रग्स केस की जांच करते रहेंगे जब तक कि उनके खिलाफ कुछ पुख्ता सूचनाएं नहीं मिलती हैं।'

ज्ञानेश्वर सिंह ने बताया कि प्रभाकर सैल द्वारा एफिडेविट के जरिए लगाए गए आरोपों की जांच एनसीबी की 5 सदस्यीय टीम कर रही है। हमने साउथवेस्ट रिजन कार्यालय से आग्रह किया है कि वो इस मामले के अहम गवाह केवी गोसावी और सैल को नोट भेजें लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो सका। उन्होंने कहा, 'मीडिया के जरिए मैं उनसे केवी गोसावी और प्रभाकर सैल जो क्रूज ड्रग्स केस में गवाह हैं उसने अपील करना चाहूंगा कि वो हमसे संपर्क करें और जांच टीम को सबूत दें। टीम मुंबई के बांद्रा स्थित सीआरपीएस मेस में ठहरी हुई है। 

इधर समीर वानखेड़े के खिलाफ चल रही जांच के बीच एनसीबी के एक अन्य गवाह शेखर कांबले ने दावा किया कि समीन वानखेड़े ने उससे भी सादे कागज पर साइन करवाया था। शेखर कांबले ने यह भी दावा किया है कि बाद में उसी पेपर का मुंबई के खारघर से एक नाइजीरियाई नागरिक की गिरफ्तारी के संबंध में पंचनामा के रूप में इस्तेमाल किया। 

कांबले ने आगे कहा कि अनिल माने नाम के एक एनसीबी अधिकारी ने उनसे कल देर रात संपर्क किया था और किसी से भी बात नहीं करने के लिए कहा। कांबेल ने कहा है 'मैंने कल टीवी पर न्यूज देखी जिसमें खारघर नाइजीरियाई मामले का जिक्र था, मैं डर गया। मुझे अनिल माने नामक एनीसीबी के एक अधिकारी का फोन आया।' कांबले ने यह भी कहा कि आशीष रंजन नाम का एनसीबी अधिकारी खारघर मामले को देख रहा है।

जिस क्रूज ड्रग्स केस की छानबीन अभी समीर वानखेड़े कर रहे हैं इसी मामले के एक गवाह प्रभाकर सैल ने आरोप लगाए थे कि शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को छोड़ने के एवज में 25 करोड़ रुपए की डील की गई थी। प्रभाकर सैल ने पैसों की इस लेनदेन में समीर वानखेड़े का नाम लेकर सनसनी मचा दी थी। जिसके बाद अब एनसीबी की विजिलेंस टीम इस मामले की जांच कर रही है। यहां बता दें कि इससे पहले मुंबई पुलिस ने भी इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर अपनी जांच शुरू कर दी है। 

प्रभाकर का दावा है कि गोसावी ने आर्यन खान को छोड़ने के लिए 25 करोड़ रुपए की मांग की थी। गोसावी वहीं शख्स है जो आर्यन खान के साथ सेल्फी लेकर चर्चा में आया था। कुछ अन्य तस्वीरों के जरिए यह दावा किया जा रहा है कि गोसावी, समीर वानखेड़े के साथ खड़ा नजर आ रहा है। प्रभाकर का आरोप है कि आर्यन खान को लेकर डील 18 करोड़ में सेटल हुई, जिसमें से एक मोटी रकम समीर वानखेड़े को दिये जाने की बात उसने सुनी।

epaper

संबंधित खबरें