फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ महाराष्ट्रमहाराष्ट्र में बड़ी तबाही लाएगा कोरोना? जनवरी के तीसरे हफ्ते तक हो सकते हैं 80 लाख केस, 80 हजार मौतें

महाराष्ट्र में बड़ी तबाही लाएगा कोरोना? जनवरी के तीसरे हफ्ते तक हो सकते हैं 80 लाख केस, 80 हजार मौतें

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के नए मामलों में फिर से बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। डॉक्टरों और विशेषज्ञों का मानना है कि राज्य में कोरोना वायरस की तीसरी लहर शुरुआती चरण में है। इस बीच, महाराष्ट्र सरकार...

महाराष्ट्र में बड़ी तबाही लाएगा कोरोना? जनवरी के तीसरे हफ्ते तक हो सकते हैं 80 लाख केस, 80 हजार मौतें
Ashutosh Rayलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 01 Jan 2022 05:22 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के नए मामलों में फिर से बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। डॉक्टरों और विशेषज्ञों का मानना है कि राज्य में कोरोना वायरस की तीसरी लहर शुरुआती चरण में है। इस बीच, महाराष्ट्र सरकार ने आशंका जताई है कि जनवरी के तीसरी सप्ताह तक राज्य में कोरोना वायरस के 80 लाख मामले आ सकते हैं और 80 हजार लोगों की मौत हो सकती है।

टाइम्स नाऊ की रिपोर्ट के मुातबिक, राज्य के अपर मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) डॉ. प्रदीप व्यास ने सभी जिला कलेक्टरों और स्वास्थ्य अधिकारियों को भेजे पत्र में कहा है कि तीसरी लहर में कोविड-19 संक्रमणों की संख्या बहुत बड़ी होने वाली है। डॉ व्यास के पत्र में कहा गया है 'अगर तीसरी लहर में 80 लाख कोविड मामले होते हैं, तो इसमें 1 फीसदी मौत का अनुमान मान लिया जाए तो 80 हजार मौतें देखने को मिल सकती है।' 

डॉ व्यास ने अधिकारियों से अपील की कि वो ओमिक्रॉन वैरिएंट को हल्का और कम घातक मानकर न चले। यह उन लोगों के लिए उतना ही घातक है जिनका टीकाकरण नहीं हुआ है और उन्हें कॉमरेडिटीज है। इसलिए टीकाकरण में तेजी लाएं और लोगों के जीवन को बचाएं। व्यास की ओर से पत्र को राज्य के सभी संभागीय आयुक्तों, जिला कलेक्टरों, नगर आयुक्तों और जिला परिषदों के सीईओ को भेजा गया है। 

इससे पहले राज्य के मंत्री विजय वडेट्टीवार ने लॉकडाउन लगाने का हिंट देते हुए कहा कि था कि राज्य इसके काफी नजदीक पहुंच गया है, लेकिन, इस पर फैसला मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ही लेंगे। उन्होंने कहा कि यात्राओं और स्कूल कॉलेजे पर फैसला साथ-साथ लिया जाएगा। महाराष्ट्र में शुक्रवार को कोविड-19 के 8,067 नए मामले आए थे, जो एक दिन पहले के मुकाबले करीब 50 प्रतिशत अधिक रहे। वहीं, गत 24 घंटे के दौरान आठ मरीजों की मौत हुई थी।

 भारत में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के 161 नए मामले सामने आने के बाद इस वैरिएंट के मामलों की संख्या बढ़कर 1,431 हो गई है। ओमीक्रोन वैरिएंट के 1,431 मामले 23 राज्यों तथा केन्द्रशासित प्रदेशों में सामने आए हैं और इनमें से 488 लोग या तो स्वस्थ हो गए हैं, या देश से चले गए हैं। कोरोना वायरस के नए वैरिएंट के महाराष्ट्र में सबसे अधिक 454 मामले सामने आए हैं और इसके बाद दिल्ली में 351,केरल में 118 और गुजरात में 115 मामले सामने आए हैं।

epaper