DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   महाराष्ट्र  ›  महाराष्ट्र में कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामले, उद्धव ठाकरे सरकार ने घटाए RT-PCR टेस्ट के दाम

महाराष्ट्रमहाराष्ट्र में कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामले, उद्धव ठाकरे सरकार ने घटाए RT-PCR टेस्ट के दाम

लाइव हिन्दुस्तान टीम,मुंबई।Published By: Himanshu Jha
Wed, 31 Mar 2021 10:15 PM
महाराष्ट्र में कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामले, उद्धव ठाकरे सरकार ने घटाए RT-PCR टेस्ट के दाम

देश के आठ राज्यों में कोरोना के मामले सबसे ज्यादा बढ़ रहे हैं। इन राज्यों में महाराष्ट्र सबसे ऊपर है। उद्धव ठाकरे की नेतृत्व वाली सरकार ने आरटी-पीसीआर टेस्टिंग की दर में कटौती की है। कलेक्शन सेंटर पर कोरोना जांच करवाने पर 500 रुपए देने होंगे। अगर कोविड सेंटर पर कोरोना जांच की जाती है तो इसके एवज में 600 रुपए चार्ज किए जाएंगे। क्वारंटीन या आइसोलेशन सेंटर और घर से सैंपल इकट्ठा करने पर 800 रुपए खर्च करने पड़ेंगे।

आपको बता दें कि महाराष्ट्र सरकार ने छठी बार RT-PCR जांच की कीमत में कटौती की है। राज्य में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों को देखते हुए यह कटौती की गई है।

महाराष्ट्र में सक्रिय मामले बढ़कर साढ़े तीन लाख के पार
देश में कोरोना महामारी से सबसे गंभीर रूप से प्रभावित महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों के दौरान साढ़े 39 हजार से अधिक नये मामले सामने आये और सक्रिय मामलों में 14,000 से अधिक की वृद्धि दर्ज की गयी जो पूरे देश में सर्वाधिक है। इस दौरान सक्रिय मामलों में 14,361 की और वृद्धि होने से इनकी संख्या बुधवार को बढ़कर 3,56,248 तक पहुंच गयी।

राज्य में इस दौरान संक्रमण के सर्वाधिक (पूरे देश में) 39,544 नये मामले सामने आने से संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 28,12,980 पहुंच गयी है। इससे पहले मंगलवार को 27,918 नये मामले, सोमवार को 31,643 मामले तथा रविवार को 40,414 नये मामले सामने आये थे। 

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार इसी अवधि में 23,600 मरीजों के स्वस्थ होने से इस संक्रमण से निजात पाने वालों की संख्या बढ़कर 24 लाख से अधिक 24,00,727 हो गयी है तथा सबसे अधिक 225 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा 54,647 तक पहुंच गया। राज्य में मरीजों के स्वस्थ होने की दर आंशिक गिरावट के साथ 85.34 फीसदी पर पहुंच गयी जबकि मृत्यु दर 1.94 प्रतिशत है।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र देश में कोरोना संक्रमण की चपेट में आने के बाद कुल मामलों, सक्रिय मामलों, कुल स्वस्थ होने वालों और इस वायरस से होने वाली मौत के मामले में पहले स्थान पर है।

संबंधित खबरें