फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ महाराष्ट्रभविष्य जानने के लिए ज्योतिषी से मिले सीएम एकनाथ शिंदे? मंत्री बोले- फंसाने की चाल है

भविष्य जानने के लिए ज्योतिषी से मिले सीएम एकनाथ शिंदे? मंत्री बोले- फंसाने की चाल है

महाराष्ट्र सरकार के उद्योग मंत्री ने कहा कि यह सीएम शिंदे को फंसाने के लिए विपक्ष की एक चाल है। सामंत गुरुवार को ऐरोली में काफी विलंबित मराठी भाषा उपकेंद्र के लिए स्थल का निरीक्षण करने आए थे।

भविष्य जानने के लिए ज्योतिषी से मिले सीएम एकनाथ शिंदे? मंत्री बोले- फंसाने की चाल है
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,मुंबईThu, 24 Nov 2022 06:52 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

विपक्ष ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे पर ज्योतिषी से सलाह लेने का आरोप लगाया है। हालांकि शिंदे सरकार के उद्योग मंत्री उदय सामंत ने ऐसी खबरों को खारिज कर दिया है। आरोप है कि मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने बुधवार को अपनी शिरडी यात्रा के बाद एक ज्योतिषी से सलाह ली थी। हालांकि महाराष्ट्र सरकार के उद्योग मंत्री ने कहा कि यह सीएम शिंदे को फंसाने के लिए विपक्ष की एक चाल है। सामंत गुरुवार को ऐरोली में काफी विलंबित मराठी भाषा उपकेंद्र के लिए स्थल का निरीक्षण करने आए थे।

मीडियाकर्मियों से बात करते हुए उन्होंने कहा, “जो कहा जा रहा है उस पर यकीन न करें। मुख्यमंत्री साईं बाबा के दर्शन के लिए शिरडी गए थे। फैक्ट यह है कि वह महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में अच्छा काम कर रहे हैं। इसलिए यह विपक्ष की एक चाल है ताकि उन्हें किसी न किसी तरह से फंसाया जा सके। मैं व्यक्तिगत रूप से इसे ज्यादा महत्व नहीं देता।"

गौरतलब है कि एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने बुधवार को शिरडी में दर्शन करने के बाद ज्योतिषी के कथित मुलाकात को लेकर मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, 'मैं ज्योतिष में विश्वास नहीं करता। पूरा देश जानता है कि असम में क्या हुआ (विद्रोह के बाद शिंदे और अन्य विधायकों ने गुवाहाटी में डेरा डाला और देवी कामाख्या के दर्शन किए)। ऐसी खबरें हैं कि वह (सीएम) अन्य विधायकों के साथ वापस असम जा रहे हैं। नासिक जाकर ज्योतिषियों को हाथ दिखाना राज्य के लिए कोई नई बात नहीं है। हालांकि, ऐसा लगता है कि मुख्यमंत्री का विश्वास डगमगा गया है।'' 

इसके अलावा अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति (ANS) ने कहा कि सीएम शिंदे नासिक के पास सिन्नार के मीरगांव में ईशानेश्वर महादेव मंदिर में गए थे। दावा किया जा रहा है कि उन्होंने ज्योतिष के माध्यम से कथित तौर पर अपने भविष्य के बारे में जानने के लिए मंदिर का दौरा किया था। शिंदे की ज्योतिष से कथित मुलाकात पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, अंधश्रद्धा निर्मूलन समिति ने कहा, "ज्योतिष विज्ञान नहीं बल्कि एक झूठी कला है। इसे विज्ञान साबित करने वाले को 21 हजार रुपये का इनाम दिया जाएगा। सीएम ने अपने दौरे से बहुत बुरा संदेश दिया है।"

epaper