फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News महाराष्ट्रऐसे तो शादियों में हो जाएंगे 'द्रौपदी-जैसे' हालात, अजित पवार ने क्यों कही ऐसी बात

ऐसे तो शादियों में हो जाएंगे 'द्रौपदी-जैसे' हालात, अजित पवार ने क्यों कही ऐसी बात

महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजित पवार ने लिंगानुपात खराब होने को लेकर चिंता जताते हुए कहा कि ऐसा ही रहा तो हालात 'द्रौपदी जैसे' हो जाएंगे। उन्होंने महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों को लेकर चिंता जताई।

ऐसे तो शादियों में हो जाएंगे 'द्रौपदी-जैसे' हालात, अजित पवार ने क्यों कही ऐसी बात
Surya Prakashलाइव हिन्दुस्तान,बीडThu, 18 Apr 2024 09:44 AM
ऐप पर पढ़ें

महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजित पवार ने लिंगानुपात खराब होने को लेकर चिंता जताते हुए कहा कि ऐसा ही रहा तो हालात 'द्रौपदी जैसे' हो जाएंगे। उन्होंने लड़कियों की जन्म दर में कमी और लड़कों की जन्मदर अधिक होने को लेकर एक कार्यक्रम में यह बात कही। उनहोंने कहा कि कन्या भ्रूण हत्या ने राज्य के कुछ हिस्सों में लिंग अनुपात को इतना खराब कर दिया है कि भविष्य में ‘द्रौपदी के बारे में सोचना पड़ सकता है’। दरअसल महाभारत में वर्णन है कि द्रौपदी के पति पांच पांडव थे। इसी का जिक्र करते हुए अजित पवार ने यह टिप्पणी की और कहा कि हालात आने वाले समय में द्रौपदी जैसे हो सकते हैं।

पुणे जिले के इंदापुर में चिकित्सकों की एक सभा को संबोधित करते हुए पवार ने कुछ स्त्रीरोग विशेषज्ञों की शिकायतों का जिक्र किया कि प्रसव पूर्व परीक्षण में लिंग निर्धारण को रोकने के नाम पर उन्हें स्वास्थ्य विभाग से उत्पीड़न का सामना करना पड़ता है। शिकायतों पर प्रतिक्रिया देते हुए पवार ने कहा कि भले ही उत्पीड़न के मामले आते हैं, लेकिन यह भी जानकारी है कि अस्पतालों में ‘अवैध चीजें’ होती हैं। उप मुख्यमंत्री ने कहा, ‘आप बीड की स्थिति जानते हैं, जहां कुछ चिकित्सकों को अवैध गर्भपात गिरोह चलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। 

ऐसी घटनाएं नहीं होनी चाहिए। कुछ जिलों में पुरुष और महिला अनुपात खराब है, यहां तक कि 1000 पुरुषों पर 850 महिलाएं हैं। चीजें मुश्किल हो जाएंगी भविष्य में किसी को द्रौपदी (एक महिला के कई पति होने के संदर्भ में) के बारे में सोचना पड़ सकता है। ऐसी स्थिति उत्पन्न हो सकती है।’ पवार ने हालांकि तुरंत यह भी स्पष्ट किया कि द्रौपदी के उदाहरण से उनका इरादा किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का नहीं था। गौरतलब है कि अजित पवार ने अपने चाचा शरद पवार से बगावत करके एनडीए का दामन थाम लिया है और डिप्टी सीएम बन गए हैं। यही नहीं राज्य की बारामती लोकसभा सीट से उनकी पत्नी सुनेत्र पवार अपनी ननद सुप्रिया सुले के मुकाबले उम्मीदवार हैं।