Wednesday, January 19, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ महाराष्ट्रखुशखबरी: मानसून के बाद की बारिश से सूखाग्रस्त मराठवाड़ा में जलाशय भरे

खुशखबरी: मानसून के बाद की बारिश से सूखाग्रस्त मराठवाड़ा में जलाशय भरे

भाषा।,लातूर। Deepak
Wed, 23 Oct 2019 05:43 PM
खुशखबरी: मानसून के बाद की बारिश से सूखाग्रस्त मराठवाड़ा में जलाशय भरे

मानसून के बाद की बारिश के चलते महाराष्ट्र के लातूर में जलाशय भर गए हैं, जिससे जल अभाव से जूझ रहे मराठवाड़ा जिले को राहत मिली है। एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि लातूर शहर के दो प्रमुख बैराज और मांजरा बांध में अगले साल 10 जून तक के लिए पर्याप्त पानी है। ऐसे में शहर को इस साल पानी की आपूर्ति के लिए टैंकरों की जरूरत नहीं होगी। एक अन्य अधिकारी ने कहा कि लातूर में इस वर्ष बारिश कम हुई थी और सरकार स्थिति को सुधारने के लिए नई परियोजनाएं तत्काल शुरू करने की योजना बना रही थी। लेकिन मानसून के बाद की बारिश से हालात में सुधार हुआ है और अब तक इस तरह की परियोजनाओं की कोई आवश्यकता नहीं है। गौरतलब है कि महाराष्ट्र का मराठावाड़ा क्षेत्र कम वर्षा के कारण सूखे की मार झेल रहा है। हर साल गर्मियों में इस क्षेत्र में पानी की भारती किल्लत हो जाती है।

Read Also: अब कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने की मोदी सरकार की तारीफ, जानें क्या कहा

प्रमुख बैराजों में पानी भरा    
लातूर के निगम आयुक्त एम डी सिंह ने कहा, 'बीते चार दिन की बारिश ने नागझारी और साईं बैराज में उनकी पूरी क्षमता का पानी भर दिया है। इन दो बांधों की भंडारण क्षमता 34.8 लाख घन मीटर है। हमने जिलाधिकारी को प्रस्ताव भेजा है और कहा है कि वह इस पानी को पीने के उपयोग के लिए रख ले। मांजरा बांध का जलस्तर भी बढ़ गया है। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, इस क्षेत्र में और वर्षा होने की संभावना है। वर्तमान में, हमारे पास मंजारा बांध में 1.441 करोड़ घन मीटर पानी है जिसे पेयजल के उद्देश्य के लिए बचा रखा है। अब तक शहर में 15 दिन में एक बार पाइपलाइनों के माध्यम से पानी की आपूर्ति की जा रही थी। अगर बारिश जारी रहती है, तो पाइपलाइनों के माध्यम से जलापूर्ति में सुधार किया जा सकता है। पिछले 48 घंटों में जलाशयों में प्रति दिन 45 लाख घन मीटर पानी बढ़ा है। हम और अधिक वर्षा की उम्मीद कर रहे हैं।'

पाइए देश-दुनिया की हर खबर सबसे पहले www.livehindustan.com पर। लाइव हिन्दुस्तान से हिंदी समाचार अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करें हमारा News App और रहें हर खबर से अपडेट।    

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें