फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशMP में भाजपा का क्या गेमप्लान, क्यों मोहन, जगदीश और राजेंद्र को कमान; इनसाइड स्टोरी

MP में भाजपा का क्या गेमप्लान, क्यों मोहन, जगदीश और राजेंद्र को कमान; इनसाइड स्टोरी

Mohan Yadav: भाजपा ने एक बार फिर सबको चौंकाते हुए ऐसे नामों को कमान दी है, जिनके बारे में किसी ने सोचा नहीं था। मध्य प्रदेश में भाजपा ने मोहन यादव को मुख्यमंत्री बनाने का फैसला किया है।

MP में भाजपा का क्या गेमप्लान, क्यों मोहन, जगदीश और राजेंद्र को कमान; इनसाइड स्टोरी
Sudhir Jhaलाइव हिन्दुस्तान,भोपालMon, 11 Dec 2023 06:46 PM
ऐप पर पढ़ें

Mohan Yadav: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने एक बार फिर सबको चौंकाते हुए ऐसे नामों को कमान दी है, जिनके बारे में किसी ने सोचा नहीं था। मध्य प्रदेश में भाजपा ने मोहन यादव को मुख्यमंत्री बनाने का फैसला किया है। वहीं, जगदीश देवड़ा और राजेंद्र शुक्ला को डिप्टी सीएम बनाया गया है। सोमवार को विधायक दल की बैठक में शिवराज सिंह चौहान की ओर से प्रस्ताव रखे जाने के बाद सर्वसम्मति से मोहन यादव का चुनाव किया गया। 

भाजपा ने इन तीनों नेताओं के जरिए एक साथ कई समीकरण साधने की कोशिश की है। मध्य प्रदेश के भूगोल और जातियों की कमेस्ट्री के जरिए 2024 लोकसभा चुनाव के पहले गणित को मजबूत करने की कोिशिश की है। मोहन यादव दक्षिण उज्जैन से विधायक हैं, जबकि जगदीश देवड़ा मंदसौर और राजेंद्र शुक्ला रीवा से जीतकर विधानसभा पहुंचे हैं। इन तीनों नेताओं के जरिए भाजपा ने मालवा-निमाड़ से लेकर महाकौशल तक को साधने की कोशिश की है।

मोहन यादव MP के नए CM, जगदीश और राजेंद्र डिप्टी; शिवराज का राज गया

जातिगत समीकरण को भी साधा
भाजपा ने मोहन यादव, जगदीश देवड़ा और राजेंद्र शुक्ला के जरिए 2024 से पहले जातिगत समीकरण को भी मजबूत करने की कोशिश की है। एक दिन पहले ही छत्तीसगढ़ में आदिवासी चेहरे को कमान देकर भाजपा ने जहां अनुसूचित जनजाति वर्ग को खुश करने की कोशिश की तो मध्य प्रदेश में ओबीसी समाज से आने वाले मोहन यादव को कमान दी है। जगदीश देवड़ा एससी वर्ग से आते हैं। इनके अलावा सामान्य वर्ग से आने वाले राजेंद्र शुक्ला को भी उपमुख्यमंत्री बनाकर सवर्णों को भी संतुष्ट किया गया है।

संघ से करीबी, बड़ा ओबीसी चेहरा; कौन हैं MP के नए सीएम मोहन यादव?

संगठन को तरजीह
भाजपा ने मध्य प्रदेश में एक बार संगठन के प्रति वफादारी को तरजीह दी है। मोहन यादव, जगदीश देवड़ा और राजेंद्र शुक्ला तीनों ही नेता आरएसएस के पुराने नेता हैं और भाजपा के लिए भी लंबे समय से जमीनी स्तर पर काम करते रहे हैं। भाजपा ने एक बार फिर काडर को यह संदेश दिया है कि जमीनी स्तर पर काम करने वाले किसी भी कार्यकर्ता को ऊंचे से ऊंचा पद मिल सकता है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें