फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशकैबिनेट मंत्री बनता तो..., भाजपा सांसद ने क्यों नहीं लिया राज्यमंत्री पद; खुद बताया

कैबिनेट मंत्री बनता तो..., भाजपा सांसद ने क्यों नहीं लिया राज्यमंत्री पद; खुद बताया

मध्य प्रदेश की मंडला लोकसभा सीट से सांसद और मोदी सरकार में मंत्री रह चुके फग्गन सिंह कुलस्ते का एक बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि उनको राज्यमंत्री का पद दिया जा रहा था लेकिन उन्होंने मना कर दिया।

कैबिनेट मंत्री बनता तो..., भाजपा सांसद ने क्यों नहीं लिया राज्यमंत्री पद; खुद बताया
Mohammad Azamलाइव हिन्दुस्तान,भोपालSun, 16 Jun 2024 11:08 PM
ऐप पर पढ़ें

हाल ही में आए लोकसभा चुनावों के बाद नरेंद्र मोदी के तीसरे कार्यकाल के लिए सरकार का गठन हुआ। इसमें पीएम मोदी के साथ 71 सांसदों ने शपथ ली। मंत्रियों के शपथ ग्रहण के ठीक एक हफ्ते बाद मध्य प्रदेश की मंडला सीट से लोकसभा सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते का एक बयान वायरल हो रहा है। वीडियो में कुलस्ते कह रहे हैं कि उन्हें राज्यमंत्री का पद मिल होता तो ठीक रहता। राज्यमंत्री का पद उन्होंने मना कर दिया। इस दौरान उन्होंने राज्यमंत्री के पद को मना करने के पीछे की वजह भी बताई है। आइये जानते हैं उन्होने क्या-क्या कहा।

रविवार को वायरल हो रहे वीडियो में फग्गन सिंह कुलस्ते कह रहे हैं कि उन्हें कैबिनेट मंत्री का पद मिलता तो ठीक रहता। उन्होंने कहा कि, "कैबिनेट मंत्री का पद मिलता तो ठीक रहता। मैं राज्यमंत्री तीन बार रह चुका हूं, इसलिए मैंने साफ मना कर दिया। चौथी बार अगर राज्यमंत्री बने तो ये ठीक नहीं।" बता दें कि पिछली मोदी सरकार में भी फग्गन सिंह कुलस्ते मंत्री रह चुके हैं। उन्हें केंद्रीय इस्पात और ग्रामीण विकास राज्यमंत्री का पद मिला था।

9 जून को हुए शपथ ग्रहण समारोह में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को मोदी सरकार में जगह मिली है। उन्हें केंद्रीय कृषि मंत्री की जिम्मेदारी दी गई है। चौहान ने मध्य प्रदेश की विदिशा लोकसभा सीट से भारी मतों के अंतर से जीत दर्ज की थी। शिवराज सिंह के अलावा गुना लोकसभा सीट से सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी केंद्र में जगह मिली है। उन्हें भी कैबिनेट में जगह मिली है। 2020 कांग्रेस छोड़ भाजपा में आने के बाद उन्हें मोदी सरकार में मंत्री बनाया गया था। तब भी ज्योतिरादित्य सिंधिया को मोदी कैबिनेट में जगह मिली थी। अब एमपी के मंडला से सांसद ने कैबिनेट मंत्री पद ना मिलने पर यह बयान दिया है, जो वायरल हो रहा है।