फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशशिवराज सिंह ने क्यों किया था 'राम-राम' वाला पोस्ट? CM ने खुद बताया

शिवराज सिंह ने क्यों किया था 'राम-राम' वाला पोस्ट? CM ने खुद बताया

शिवराज सिंह चौहान के सोशल मीडिया पर किये राम-राम वाले पोस्ट को लेकर कई कयास भी लगाए जा रहे थे, क्यों कि प्रदेश के सीएम की कुर्सी की रेस में कई बड़े नेताओं के नाम शामिल हैं। शिवराज सिंह ने क्या बताया...

शिवराज सिंह ने क्यों किया था 'राम-राम' वाला पोस्ट? CM ने खुद बताया
why did shivraj singh post ram-ram cm himself told
Mohammad Azamलाइव हिंदुस्तान,खंडवाSun, 10 Dec 2023 08:42 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव में मिली प्रचंड बहुमत की जीत के बाद भी भारतीय जनता पार्टी अब तक सीएम का चेहरा घोषित नहीं कर पाई है। इसी दौरान प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान के सोशल मीडिया पर किये राम-राम वाले पोस्ट को लेकर कई कयास भी लगाए जा रहे थे, क्यों कि प्रदेश के सीएम की कुर्सी की रेस में कई बड़े नेताओं के नाम शामिल हैं। ऐसे में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के राम-राम के का मतलब खुद बता दिया है। आइये जानते हैं उन्होंने क्या कहा...

क्या है राम-राम वाले पोस्ट के मायने सीएम ने खुद बताया
अपने खंडवा जिले के प्रवास के दौरान संत सिंगाजी के दर्शन करने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मीडिया से भी रूबरू हुए और उन्होंने मीडिया के कई सवालों के जवाब भी दिए। इस दौरान जब मुख्यमंत्री से उनके राम-राम कहने वाले पोस्ट के बारे में मीडिया ने सवाल किया तो उन्होंने मीडिया से कहा कि अगर हम घर में आते हैं तो कहते हैं राम-राम, बीमार हो जाते हैं तो राम-राम कहते हैं । राम हमारे रोम रोम में रमे हैं। राम हमारी हर सांस में बसे हैं। इसलिए मुंह से राम-राम छटक गया।

बता दें कि शनिवार को मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया था। उनके उस पोस्ट के बाद यह कयास लगाए जाने लगे कि एमपी में सीएम फेस को लेकर कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है। इस दौरान यह कयास भी लगने लगे कि सीएम शिवराज सिंह को बीजेपी से झटका मिल सकता है। एमपी के सीएम पद की रेस में कई नाम शामिल हैं। इनमें भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और नरेंद्र तोमर का भी नाम शामिल है। शिवराज सिंह के 'राम-राम' वाली पोस्ट के बाद ऐसी चर्चा शुरू हो गई थी कि बीजेपी एमपी को लेकर कोई अलग फैसला ले सकती है। हालांकि, अभी तक भाजपा की तरफ से एमपी के सीएम पद का ऐलान नहीं किया गया है।