फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशलहसुन की रखवाली के लिए बंदूकधारी गार्ड, सीसीटीवी कैमरे; क्या है वजह?

लहसुन की रखवाली के लिए बंदूकधारी गार्ड, सीसीटीवी कैमरे; क्या है वजह?

उज्जैन के चिंतामन रोड पर मंगरोला गांव में, सुरक्षा गार्ड और बंदूकधारी किसानों को फसल से भरे खेतों में घूमते देखा गया है।  कई संपन्न किसानों ने सीसीटीवी लगाए हैं।

लहसुन की रखवाली के लिए बंदूकधारी गार्ड, सीसीटीवी कैमरे; क्या है वजह?
Aditi Sharmaपीटीआई,उज्जैनSun, 25 Feb 2024 11:06 AM
ऐप पर पढ़ें

अब तक आपने आभूषणों की दुकानों पर या बैंक के बंदूकधारी गार्डों को रखवाली करते हुए देखा होगा। लेकिन क्या खेत में ऐसा नजारा देखा है। आपको भले ही ये सवाल थोड़ा अटपटा लगे लेकिन मध्य प्रदेश में कुछ ऐसा ही हो रहा है। वजह है यहां आसमान छू रहे लहसुन  के दाम। प्रदेश में लहसुन की कीमत इतनी ज्यादा बढ़ गई है कि अब  किसानों को खेतों में इनकी रखवाली के लिए बंदूकधारी गार्ड और सीसीटीवी कैमरे लगाने पड़ रहे हैं।

कई किसानों ने दावा किया है कि प्रदेश में लहसुन की कीमतें रिटेल मार्केट में 400 रुपये किलो पार पहुंच गई हैं, जबकि थोक बाजारों में दर 30,000 रुपये से 35,000 रुपये प्रति क्विंटल के बीच है।

जिला मुख्यालय से लगभग 12 किलोमीटर दूर, उज्जैन के चिंतामन रोड पर मंगरोला गांव में, सुरक्षा गार्ड और बंदूकधारी किसानों को फसल से भरे खेतों में घूमते देखा गया है।  कई संपन्न किसानों ने सीसीटीवी लगाए हैं और मॉनिटर पर अपने खेतों की निगरानी कर रहे हैं। किसान भरत सिंह बैस ने बताया कि चोर कई किसानों की उपज ले गए हैं। इसलिए अब वह अपनी 13 बीगा जमीन की रखवाली कर रहे हैं जिस पर उन्होंने लहसुन बोया है।

 बैस ने कहा, पिछले दो सालों से लहसुन की खेती में हमें भारी नुकसान उठाना पड़ा, हालांकि, इस साल भाग्य हमारे साथ है। किसानों को फसल का 200 रुपये प्रति किलोग्राम मिल रहा है. हमारी लहसुन की फसल अगले 15 दिनों में पक जाएगी इसलिए हम इस तरह से अपने खेत की रखवाली कर रहे हैं।

एकेएस कंपनी  चलाने वाले भोपाल स्थित सब्जी व्यापारी मोहम्मद सलीम ने कहा उन्होंने कभी लहसुन की कीमतें इस स्तर तक पहुंचते नहीं देखीं। 'थोक बाजार में अच्छी गुणवत्ता वाले लहसुन की कीमत 200 रुपये प्रति किलोग्राम है। सलीम ने कहा, पूरे मप्र में थोक कीमतों में हर रोज उतार-चढ़ाव हो रहा है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें