फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशMadhya Pradesh Election : हमने गठबंधन की कोशिश की थी, MP में सीटों पर SP से क्यों नहीं बनी बात; कमलनाथ ने बताया

Madhya Pradesh Election : हमने गठबंधन की कोशिश की थी, MP में सीटों पर SP से क्यों नहीं बनी बात; कमलनाथ ने बताया

Madhya Pradesh Election : छिंदवाड़ा में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कमलनाथ ने इसपर अपनी प्रतिक्रिया दी है। कमलनाथ ने कहा, 'हमने एक गठबंधन बनाने की कोशिश की थी, यह सीटों के बारे में नहीं था।

Madhya Pradesh Election : हमने गठबंधन की कोशिश की थी, MP में सीटों पर SP से क्यों नहीं बनी बात; कमलनाथ ने बताया
Nishant Nandanएएनआई,छिंदवाड़ाThu, 26 Oct 2023 02:29 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश चुनाव (Madhya Pradesh Election) में सीटों के बंटवारे को लेकर समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) और जनता दल यूनाइटेड (JDU) के साथ बढ़ी दूरियों पर अब राज्य कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ (Kamalnath) ने अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है। कमलनाथ ने कहा कि उन्होंने गठबंधन करने की कोशिश की थी। गुरुवार को छिंदवाड़ा (Chhindwara) जिले में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कमलनाथ ने इसपर अपनी प्रतिक्रिया दी है। कमलनाथ ने कहा, 'हमने एक गठबंधन बनाने की कोशिश की थी, यह सीटों के बारे में नहीं था। सवाल यह था कि कौन सी सीट पर? जिन सीटों पर हमारे लोगों ने बताया कि बीजेपी को फायदा मिलेगा, वहां अब यह नहीं होगा।'

कमलनाथ ने आगे कहा, 'हमने बातचीत की, हमने सबसे अच्छी कोशिश की, हमारे लोग तैयार नहीं हो रहे थे। क्योंकि सवाल यह नहीं है कि कितनी सीटें, सवाल यह है कि कौन सी सीटें? जो सीटें वो चाहते थें उसपर हम अपने लोगों को मना पाने में असमर्थ थे।' कमलनाथ का यह बयान ऐसे समय में आया है जिब अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने इससे पहले कहा था कि हमें कांग्रेस ने धोखा दिया है। 

अखिलेश यादव ने कहा था, 'अगर कांग्रेस मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में सीट नहीं देना चाहती है, तब उन्हें यह बात पहले बतानी चाहिए थी। आज समाजवादी पार्टी सिर्फ उन्हीं सीटों पर लड़ रही है जहां उसका खुद का संगठन है। अब मध्य प्रदेश के बाद मुझे पता है कि INDIA गठबंधन लोकसभा चुनाव के लिए है और यह राष्ट्रीय लेवल पर है। अगर कांग्रेस इसी तरह व्यवहार करती रही तो उसपर कौन भरोसा करेगा? अगर अब अपने दीमाग में किसी तरह का कन्फ्यूजन रखकर बीजेपी के साथ लड़ेंगे, तब हम सफल नहीं होंगे।' इसी के साथ अखिलेश यादव ने कांग्रेस को यह भी याद दिलाया था कि मध्य प्रदेश में सरकार बनाने में SP ने एक बार नहीं बल्कि दो बार उनकी मदद की थी। 

अखिलेश यादव ने कहा था, 'हमारा एक विधायक था और पांच सीटों पर नंबर-2 थे। जब कांग्रेस को जरूरत थी तब समाजवादी पार्टी पहली पार्टी थी जिसने कांग्रेस का समर्थन किया था। इसका परिणाम यह हुआ था कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी थी।' बता दें कि मध्य प्रदेश में साल 2018 में हुए चुनाव में समाजवादी पार्टी ने 52 सीटों पर चुनाव लड़ा था और पार्टी को एक सीट पर जीत हासिल हुई थी। यह सीट बीजावर विधानसभा सीट थी। राज्य में 17 नवंबर को अब चुनाव होने हैं औऱ वोटों की गिनती 3 दिसंबर को होगी। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें