फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशनेताजी से पहले वोटर 'जीत' गए, मतदान करने से कैसे मिली हीरे की अंगुठी 

नेताजी से पहले वोटर 'जीत' गए, मतदान करने से कैसे मिली हीरे की अंगुठी 

लोकसभा चुनाव के पहले दो चरणों में मतदान प्रतिशत कम रहने के बाद मतदाताओं को प्रोत्साहित करने में जिला प्रशासन भी जुटा रहा। भोपाल के कई बूथों पर वोटरों के लिए लॉटरी स्कीम का आयोजन किया गया।

नेताजी से पहले वोटर 'जीत' गए, मतदान करने से कैसे मिली हीरे की अंगुठी 
Subodh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,भोपालWed, 08 May 2024 09:36 AM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव के पहले दो चरणों में मतदान कम होने पर जहां चुनाव आयोग ने इसे बढ़ाने के प्रयास में जुटा है,  वहीं विभिन्न सामाजिक, धार्मिक और व्यापारी संगठन भी अपनी तरफ से भरपूर कोशिश कर रहे हैं। मंगलवार को तीसरे चरण के लिए हुए मतदान के दौरान भोपाल में मतदाताओं को प्रोत्साहित करने के लिए भोपाल के कई पोलिंग बूथों पर लॉटरी स्कीम का आयोजन किया गया था।

एक बूथ पर तो एक मतदाता की किस्मत ही चमक गई। योगेश साहू नाम के एक मतदाता ने सुबह 11 बजे हुए पहले ड्रॉ में हीरे की अंगूठी जीती। दरअसल, प्रशासन ने मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए यहां लकी ड्रॉ निकाला था। भोपाल जिला प्रशासन ने मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए अनोखी पहल की थी। यहां प्रशासन की ओर से हर बूथ पर लकी ड्रॉ की घोषणा की गई थी।  

बूथ के सहायक नोडल अधिकारी ने बताया कि पिछले दो चरणों में कम मतदान प्रतिशत को देखते हुए जिला प्रशासन ने वोटरों को घरों से बाहर निकलकर पोलिंग बूथों तक पहुंचने की अपील की थी। अधिकारी ने बताया कि हमने लकी ड्रॉ निकाला, जिसमें तीन मतदाता शामिल हैं। बूथ संख्या 211 पर एक वोटर को लकी ड्रॉ में हीरे की अंगुठी मिली। बताया कि भोपाल के करीब 2000 से अधिक पोलिंग बूथों पर तीन लकी ड्रॉ निकाले गए। इनमें रेफ्रिजेटर और टीवी से लेकर कई अन्य तरह के पुरस्कार शामिल थे।

भोपाल में हर मतदान केंद्रों पर वोटरों की सुविधाओं का खास ध्यान रखा गया। लोकतंत्र के इस उत्सव में लोग बढ़-चढ़कर शामिल हों, इसके लिए जिला प्रशासन ने व्यापक प्रबंध किए थे। मतदाताओं को वोट डालने के दौरान गर्मी न झेलनी पड़े, इसके लिए बूथ के बाहर तंबू लगाए गए थे और ठंडे पानी के साथ ही कूलर की भी व्यवस्था की गई थी।