फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशMP: बच्चों के क्रिकेट खेलने से भड़के प्रिंसिपल, उसी बैट से बेरहमी से पीटा, वीडियो वायरल

MP: बच्चों के क्रिकेट खेलने से भड़के प्रिंसिपल, उसी बैट से बेरहमी से पीटा, वीडियो वायरल

वीडियो वायरल होने के बाद शिक्षा विभाग के एडीपीसी गिरीश तिवारी ने संज्ञान में लिया है और प्राचार्य से मामले में जवाब मांगा गया है। हालांकि इस मामले में अभी किसी ने इसकी शिकायत पुलिस को नहीं की है।

MP: बच्चों के क्रिकेट खेलने से भड़के प्रिंसिपल, उसी बैट से बेरहमी से पीटा, वीडियो वायरल
Aditi Sharmaलाइव हिंदुस्तान,उज्जैनSat, 09 Dec 2023 11:20 AM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में शासकीय स्कूल के प्राचार्य का बच्चों को क्रिकेट के बल्ले से बेरहमी पिटता हुआ वीडियो वायरल हो रहा है। मामला उज्जैन ते ग्राम खेड़ा खजुरिया का है। वीडियो में प्राचार्य 10वीं क्लास के 2 बच्चों को थप्पड़ मारते हुए और क्रिकेट के बेट से पिटाई करते हुए नजर आ रहे हैं। वीडियो वायरल होने के बाद शिक्षा विभाग के एडीपीसी गिरीश तिवारी ने संज्ञान में लिया है और प्राचार्य से मामले में जवाब मांगा गया है। हालांकि इस मामले में अभी किसी ने इसकी शिकायत पुलिस को नहीं की है।

उज्जैन जिले के ग्राम खेड़ा खजुरिया में शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक का दो छात्रों को क्रिकेट बैट से पीटते हुए और थप्पड़ मारते हुए वीडियो वायरल हुआ है। इस दौरान छात्र डरकर शिक्षक से माफी मांगते हुए भी देखे जा रंहे हैं। बताया जा रहा है कि छात्र स्कूल में क्रिकेट खेल रहे थे, इस दौरान प्राचार्य का उधर से निकलना हुआ। इससे नाराज होकर स्कूल के संकुल केंद्र के प्राचार्य उदय सिंह चौहान ने बच्चों की बेरहमी से पिटाई कर दी। इसका वीडियो किसी ने स्कूल के बाहर खिड़की से बना लिया और सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। 

मामले में संकुल केंद्र के प्राचार्य से जानना चाहा तो उन्होंने कहा कि वीडियो आठ महीने पुराना है। स्कूल के बच्चे बहुत शरारती हैं, कभी-कभी तो पुलिस भी बुलाना पड़ती है। वहीं दूसरी ओर उनका कहना है कि स्कूल के बाहर अवैध गुमटी रखने के मामले में आपत्ति ली थी। उसने यह वीडियो बनाकर वायरल किया है।

उन्होंने कहा, मैं बच्चों को इतनी जोर से नहीं पीट रहा था सिर्फ डरा धमका रहा था। बच्चों के माता-पिता ने इस मामले को लेकर अभी तक किसी से शिकायत नहीं की है। गौरतलब है कि शिक्षा विभाग द्वारा शासकीय स्कूलों में स्पष्ट रूप से हिदायत दी जाती है कि स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को शारीरिक ओर मानसिक तौर पर प्रताड़ना ना दी जाए। लेकिन इसके बावजूद इस प्रकार की घटनाएं सामने आती रहती हैं। संकुल केंद्र के प्राचार्य उदय सिंह का कहना है कि मैं बच्चों के साथ मारपीट नहीं करता हूं यह वीडियो स्कूल की खिड़की के बाहर से बनाया गया है और गलत है किसी ने मुझे फसाने के लिए यह वीडियो वायरल किया है।

एडीपीसी गिरीश तिवारी का कहना है कि वीडियो संज्ञान में आया है इसमे किसी प्रकार की शिकायत नहीं मिली है। वीडियो की आधार पर प्राचार्य उदयसिंह से जबाब मंगा गया है कि उन्होंने किस वजह से पिटाई की है। जांच करने के बाद ही उचित कार्रवाई होगी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें