फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशदो नेता CM कुर्सी के लिए नहीं, बेटों के लिए कपड़े फाड़ रहे, रतलाम में बोले PM मोदी

दो नेता CM कुर्सी के लिए नहीं, बेटों के लिए कपड़े फाड़ रहे, रतलाम में बोले PM मोदी

मोदी ने कहा कि रतलाम आएं और यहां का सेव नहीं खाएं तो उसे रतलाम आया नहीं माना जाता। तीन दिसंबर को जब भाजपा सरकार की वापसी का जश्न मनेगा तो लड्डू के साथ रतलामी सेव भी खूब खाया जाएगा।

दो नेता CM कुर्सी के लिए नहीं, बेटों के लिए कपड़े फाड़ रहे, रतलाम में बोले PM मोदी
Swati Kumariभाषा,रतलामSat, 04 Nov 2023 06:14 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्यप्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव के पूर्व आज राज्य में चुनाव प्रचार का आगाज करते हुए कांग्रेस के प्रदेश के दोनों वरष्ठि नेताओं कमलनाथ और दग्विजिय सिंह को बिना नाम लिए आड़े हाथों लिया और कहा कि दोनों के बीच अभी दिख रहा 'घमासान' तो सर्फि 'ट्रेलर' है और दोनों के बीच की लड़ाई सर्फि इस बात की है कि किस का बेटा मध्यप्रदेश कांग्रेस पर कब्जा करेगा। मोदी राज्य के रतलाम में रतलाम, धार और उज्जैन के नौ विधानसभा क्षेत्रों के पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा भी मौजूद रहे। मोदी ने ना केवल मध्यप्रदेश बल्कि छत्तीसगढ़ में भी भाजपा की सरकार बनने का दावा किया। 

अपने संबोधन की शुरुआत में मोदी ने कहा कि रतलाम आएं और यहां का सेव नहीं खाएं तो उसे रतलाम आया नहीं माना जाता। तीन दिसंबर को जब भाजपा सरकार की वापसी का जश्न मनेगा तो लड्डू के साथ रतलामी सेव भी खूब खाया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा के समर्थन में चल रही आंधी अद्भुत है। जो लोग दल्लिी में बैठ कर गुणा भाग करते हैं,  उनका हिसाब आज बदल जाएगा। अब सर्फि चर्चा इस बात की होगी कि भाजपा का दो तिहाई से बहुमत होगा या उससे कम। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास सर्फि झूठी घोषणाओं का भोंपू ही बच गया है। कांग्रेस के नेता, डॉयलॉग और घोषणाएं सब फल्मिी हैं। जब किरदार फल्मिी तो सीन भी फल्मिी ही होगा। कांग्रेस के दो नेताओं के बीच 'कपड़े फाड़ प्रतियोगिता' है। ये फल्मि का ट्रेलर मात्र है। तीन दिसंबर के बाद कांग्रेस की असली पिक्चर दिखेगी। 

उन्होंने कहा कि आपस में जो लोग गुत्थमगुत्था हैं, जहां उन्हें मौका मिला है, वहां वे जनता के ही कपड़े फाड़ने लगते हैं। इनको अवसर देना बड़ा संकट है। कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ और राजस्थान का क्या हाल कर दिया है। कांग्रेस का मतलब हजारों करोड़ के घोटाले, अपराधियों का बोलबाला, गरीबों से वश्विासघात, दलितों पर अत्याचार और राज्य को बीमार बनाने की गारंटी है। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि यहां के कांग्रेस के शीर्ष नेता मुख्यमंत्री पद की कुर्सी के लिए ही नहीं लड़ रहे। ये उनके अपने बेटों के लिए लड़ाई चल रही है कि किसका बेटा मध्यप्रदेश कांग्रेस पर कब्जा करेगा। कांग्रेस केवल परिवारवाद का परचम लहरा सकती है। उन्होंने कहा कि देश में गरीबों को तीन साल से मुफ्त राशन दिया जा रहा है। इस योजना की मियाद दिसंबर में पूरी हो रही थी, पर अब आने वाले पांच साल के लिए इसे बढ़ाया जाएगा।

इस आदिवासीबहुल क्षेत्र में मोदी ने कहा कि कांग्रेस एक परिवार से बाहर देख नहीं सकती। पार्टी ने देश की पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति के खिलाफ भाजपा के ही एक पुराने नेता को उतार दिया और दिखा दिया कि आदिवासियों को रोकने के लिए पार्टी किस हद तक जा सकती है। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में दल्लिी मुंबई एक्सप्रेस वे की बदौलत रोजगार बढ़ेंगे। अब ये अहम व्यापारिक केंद्र बनेगा। उन्होंने दावा किया कि वे अभी छत्तीसगढ़ से आ रहे हैं और वहां भी भाजपा सरकार बनना तय है।
उन्होंने सभा में मौजूद लोगों से कहा कि लोग घर घर जाएं और कहें कि स्वयं मोदी रतलाम आए थे और घरों की माताओं को उन्होंने प्रणाम कहा है। उन्होंने कहा कि जब माताएं और बुजुर्ग उन्हें आशीर्वाद देते हैं तो उनके काम करने की ताकत और बढ़ जाती है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें