फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मध्य प्रदेशशिवलिंग को प्रणाम किया, रुपयों से भरी दान पेटी चुराई और लेकर चला गया; ताला न तोड़ पाने पर खेत में छोड़ा

शिवलिंग को प्रणाम किया, रुपयों से भरी दान पेटी चुराई और लेकर चला गया; ताला न तोड़ पाने पर खेत में छोड़ा

चोर ने पहले शिवलिंग को प्रणाम किया। फिर मंदिर से रुपयों से भरी दानपेटी चुराई और वहां से चला गया। घटना मध्य प्रदेश के इंदौर इच्छापुर हाईवे पर स्थित रुस्तमपुर के प्रसिद्ध गुप्तेश्वर महादेव मंदिर की है।...

शिवलिंग को प्रणाम किया, रुपयों से भरी दान पेटी चुराई और लेकर चला गया; ताला न तोड़ पाने पर खेत में छोड़ा
Deepakलाइव हिंदुस्तान,खंडवाFri, 11 Mar 2022 09:53 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

चोर ने पहले शिवलिंग को प्रणाम किया। फिर मंदिर से रुपयों से भरी दानपेटी चुराई और वहां से चला गया। घटना मध्य प्रदेश के इंदौर इच्छापुर हाईवे पर स्थित रुस्तमपुर के प्रसिद्ध गुप्तेश्वर महादेव मंदिर की है। यह पूरी घटना मंदिर में लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई। घटना की खबर मिलते ही पुलिस को सूचना दी गई। खबर लिखे जाने तक पुलिस चोर को गिरफ्तार नहीं कर सकी थी।

पूजा कर भगवान के हाथ जोड़े और चुरा ली दान पेटी 
खंडवा के इंदौर इच्छापुर हाईवे पर बसे रुस्तमपुर गांव में प्रसिद्ध गुप्तेश्वर महादेव मंदिर है। देर रात एक बदमाश मंदिर में पहुंचा। उसने पहले भगवान भोलेनाथ के शिवलिंग की पूजा-अर्चना की। उसके बाद मूर्ति के सामने खड़े होकर भगवान के हाथ जोड़े। इसके बाद उसने मंदिर में रखी दानपेटी उठाई और कंधे पर लादकर चलता बना। मंदिर के पुजारी आहट सुनकर जागे और आवाज दी। किसी की आवाज नहीं आने पर वापस सो गए।

चोर को नहीं ढूंढ पाई पुलिस
इधर मंदिर में चोरी की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। मौके पर पहुंचे डॉग स्क्वॉड ने तफ्तीश शुरू की। पुलिस का डॉग चोर और पेटी का पता लगाने के लिए पिपलोद गांव तक दौड़ कर खाली हाथ लौट आया। एक किसान को मंदिर से कुछ ही दूरी पर एक खेत में मंदिर की पेटी दिखाई दी, जिसने उसे लाकर मंदिर के महंत के हवाले कर दिया। आशंका है कि चोर ने प्रयास किया लेकिन हुआ दान पेटी का ताला नहीं तोड़ सका। जिससे वह पेटी वहीं छोड़कर भाग गया।

epaper