फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशतेरी शक्ल पसंद नहीं आई, यह बोल पुलिसवाले ने हवालात में बंद कर पीटा; CM से शिकायत

तेरी शक्ल पसंद नहीं आई, यह बोल पुलिसवाले ने हवालात में बंद कर पीटा; CM से शिकायत

आरोप है कि अरविन्द को थाने बुलाकर हवालात में बैठाया गया जिसके बाद शाम को थाने पर मौजूद एक संतरी लोकेद्र कुमार गुर्जर ने अरविन्द को हवालात में बैठ जाने को कहा। इसके बाद उनकी पिटाई की गई है।

तेरी शक्ल पसंद नहीं आई, यह बोल पुलिसवाले ने हवालात में बंद कर पीटा; CM से शिकायत
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,इंदौरThu, 23 Nov 2023 01:22 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश के इंदौर में एक शख्स ने थाने में उसकी पिटाई किए जाने का आरोप लगाया है। पीड़ित युवक ने इस संबंध में अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तक अपनी शिकायत पहुंचाई है। युवक का आऱोप है कि पुलिसवाले ने उससे कहा कि उन्हें उसकी शक्ल पसंद नहीं आई और फिर उसकी पिटाई कर दी। वही पुलिस के आलाधिकारी अभी कुछ भी कहने को तैयार नहीं है। फरियादी का नाम अरविन्द विनोद पुरिया बताया जा रहा है। अरविंद निगम में एजेंट के रूप में कार्य करते हैं। उन्होंने हिंदुस्तान लाइव से फोन पर जानकरी साँझा करते हुए बताया कि घटना 19 तारीख की है। उस दिन वो भाई दूज के लिए मालवी नगर से अपनी मां को लेकर मामा के घर बापू गाँधी गए थे। उनका कहना है कि इलाके में रहने वाले पडोसी से उनके मामा का कुछ विवाद हो गया था जिसके बाद फरियादी अरविन्द विनोद पुरिया ने ही थाने जाकर पुलिस वालो को इस विवाद की सुचना दी। 

पुलिस ने मामले को शांत कर दोनों पक्षों में राजीनामा भी करवा दिया। घटना के अगले दिन अरविन्द को लसुडिया थाने से फोन आया कि उन्हें थाने में आना होगा। अरविन्द के मामा के घर जो विवाद हुआ था उस पडोसी ने ही थाने पर यह शिकायती आवेदन दिया था। आरोप है कि अरविन्द को थाने बुलाकर हवालात में बैठाया गया जिसके बाद शाम को थाने पर मौजूद एक संतरी लोकेद्र कुमार गुर्जर ने अरविन्द को हवालात में बैठ जाने को कहा। अरविन्द ने कहा कि मैं बहुत देर से बैठा हूं और मेरे पैर की नस चढ़ गई है। जिसके बाद लोकेन्द्र ने अरविन्द को गालियां दी। जब अरविंद ने इसका विरोध किया तब लोकेंद्र ने हवालात में घुस उसकी पिटाई शुरू कर दी। लोकेंद्र ने कहा, 'मुझे तेरी शकल पसंद नहीं आई।' आरक्षक लोकेन्द्र की इस बर्बरता की शिकायत पीड़ित ने थाना प्रभारी से भी की है। 

घटना को लेकर जब थाना प्रभारी तारेश सोनी से चर्चा की गई तो उनका कहना था कि आवेदक अरविन्द के  मामा के लड़के की शादी इलाके की रहने वाली किसी लड़की से हुई है। युवती के पिता अरविन्द के मामा के घर के पास रहते हैं। अरविन्द से उस दिन भी युवती के पिता द्वारा मामा के घर विवाद की जानकारी लगने के बाद मालवी नगर से बब्पू गाँधी नगर पहुंचा था। लेकिन ड्यूटी पर मौजूद आरक्षक लोकेद्र ने किसी प्रकार से कोई मारपीट अरविन्द के साथ नहीं की है। घटना को लेकर अब अरविन्द ने डीसीपी और सीएम से लिखित शिकायत भी की है।  

रिपोर्ट -- हेमंत नागले

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें