फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मध्य प्रदेशमध्य प्रदेश: सिंगरौली बीजेपी विधायक के बेटे की गुंडागर्दी, कोयला लदा ट्रक रोकने पर वनकर्मियों को पीटा, हवाई फायरिंग की

मध्य प्रदेश: सिंगरौली बीजेपी विधायक के बेटे की गुंडागर्दी, कोयला लदा ट्रक रोकने पर वनकर्मियों को पीटा, हवाई फायरिंग की

मध्य प्रदेश के सिंगरौली से बीजेपी विधायक रामलल्लू वैश्य के बेटे ने कोयला लदा ट्रक रोकने पर वनकर्मियों के साथ मारपीट की। इतना ही नहीं जान बचाकर पुलिस स्टेशन भागे कर्मियों पर हवाई फायरिंग की।

मध्य प्रदेश: सिंगरौली बीजेपी विधायक के बेटे की गुंडागर्दी, कोयला लदा ट्रक रोकने पर वनकर्मियों को पीटा, हवाई फायरिंग की
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,सिंगरौलीThu, 21 Jul 2022 01:56 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

हरियाणा में खनिज माफिया द्वारा एक डीएसपी को वाहन से कुचलने का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था की मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले में अवैध कोयले से लोड ट्रेलर को रोकने और पूछताछ करने पर दो फॉरेस्ट कर्मियों पर विधायक के बेटे एवं उसके कई साथियों द्वारा जानलेवा हमला किया गया। जिसके बाद फॉरेस्ट कर्मी अपनी जान बचाकर भागे। पुलिस ने फॉरेस्ट कर्मियों की शिकायत पर विधायक पुत्र समेत दो नामजद सहित 6 अन्य पर मामला दर्ज कर लिया है।

भाजपा के सिंगरौली विधायक रामलल्लू वैश्य के पुत्र ने पिता के रसूख के मद में चूर होकर एक बार फिर दुस्साहस पूर्ण कारनामे को अंजाम दिया है। इस बार विधायक पुत्र की गुंडागर्दी का शिकार वनकर्मी हुए हैं। विधायक पुत्र ने अपने गुर्गों के साथ मिलकर वनकर्मी की जमकर पिटाई की। विधायक पुत्र की नाराजगी की वजह ड्यूटी पर तैनात वनकर्मी द्वारा कोयला लदे वाहन का दस्तावेज मांगना बताया जा रहा है।

सिंगरौली जिले के मोरवा थाना क्षेत्र अंतर्गत खनाहना फॉरेस्ट बॉर्डर में एक अवैध कोयले से लदे ट्रक को रोकने पर सिंगरौली विधायक के बेटे विवेक वैश्य, साथी धर्मेंद्र सिंह समेत छह अन्य ने गाड़ी रोकने पर फारेस्ट कर्मियों को गाली गलौज देते हुए लाठी-डंडे से मारपीट की। तभी जान बचाकर भागे फॉरेस्ट कर्मी चौकी के अंदर घुस गए और अपनी जान बचाई। तब विधायक पुत्र और उनके साथियों द्वारा चौकी में तोड़फोड़ करते हुए चौकी की खिड़की से हवाई फायर की। 

इसमें फॉरेस्ट कर्मी बाल-बाल बच गए। दोनों फारेस्ट कर्मियों की बाइक में तोड़फोड़ करते हुए विधायक पुत्र मौके से गाड़ी छुड़ाकर निकल गए। पीड़ित फारेस्ट कर्मियों ने घटना की शिकायत मोरवा थाने में दर्ज कराई है। पुलिस ने फॉरेस्ट कर्मचारियों का मेडिकल कराने के बाद उनकी शिकायत के आधार पर आईपीसी की धारा 294, 353, 332, 336, 427, 34 के तहत केस दर्ज किया है। हालांकि घटना को अंजाम देने वाले अभी किसी अपराधी को पुलिस ने गिरफ्तार नहीं किया है ना ही कुछ बोलने को तैयार है।

epaper