फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशक्या बुधनी विधानसभा सीट से शिवराज के बेटे की सियासत में होगी एंट्री? शुरू हुई खुसुर-फुसुर

क्या बुधनी विधानसभा सीट से शिवराज के बेटे की सियासत में होगी एंट्री? शुरू हुई खुसुर-फुसुर

मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान के दिल्ली जाने के बाद सूबे के सियासी गलियारों में उनके बेटे कार्तिकेय सिंह चौहान के राजनीति में एंट्री को लेकर अटकलों का बाजार गर्म है। पढ़ें यह रिपोर्ट...

क्या बुधनी विधानसभा सीट से शिवराज के बेटे की सियासत में होगी एंट्री? शुरू हुई खुसुर-फुसुर
shivraj singh chauhan and kartikey chouhan
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,भोपालSat, 22 Jun 2024 07:38 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के दिल्ली जाने के बाद सूबे के सियासी गलियारों में उनके बेटे कार्तिकेय सिंह चौहान के राजनीति में एंट्री को लेकर चर्चाएं तेज हैं। बीते रविवार को शिवराज सिंह चौहान भोपाल में एक भव्य रोड शो में शामिल हुए। इसमें भारी भीड़ उमड़ी। इस इवेंट ने साबित कर दिया कि शिवराज की लोकप्रियता अब भी बरकरार है। इन सबके बीच चर्चाएं हो रही हैं कि बेटे कार्तिकेय चौहान पिता की खाली की गई बुधनी विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में उतारे जा सकते हैं। 

बुधनी विधानसभा क्षेत्र से भारी समर्थन
भोपाल में रोड-शो के बाद शुक्रवार को सीहोर के भेरुंदा में कार्यकर्ताओं का आभार सम्मेलन आयोजित किया गया। इसमें कार्तिकेय चौहान ने अपनी मां साधना सिंह के साथ नजर आए और उन्होंने लोगों का आभार जताया। यूनिवर्सिटी ऑफ पेंसिलवेनिया लॉ स्कूल के पूर्व छात्र कार्तिकेय चौहान ने अपने संबोधन में बुधनी विधानसभा क्षेत्र से मिले भारी समर्थन का जिक्र किया जहां से उनके पिता ने 1.5 लाख मतों से उल्लेखनीय जीत दर्ज की। 

आलोचकों को मुंहतोड़ जवाब दिया
जूनियर चौहान यानी कार्तिकेय ने अपने भाषण में कहा कि बुधनी के लोगों ने लगातार अपने नेता को आशीर्वाद दिया है। इससे शिवराज जी छह बार विधायक बने हैं। वह मध्य प्रदेश के एकमात्र ऐसे नेता हैं जिनका चुनाव क्षेत्र के लोगों ने लड़ा है। मैं आपके चरणों में नतमस्तक हूं। बहुत उंगलियां उठीं, लेकिन हमने आलोचकों को मुंहतोड़ जवाब दिया है। मुझे आपमें, मुझमें और शिवराज जी में कोई अंतर नहीं दिखता। हम सबके शरीर कई हैं लेकिप आत्मा एक ही है।

आज पूरी दिल्ली नतमस्तक
अपने पिता की लोकप्रियता पर प्रकाश डालते हुए कार्तिकेय चौहान ने कहा- हमारे नेता मुख्यमंत्री रहते हुए भी लोकप्रिय थे। सीएम नहीं रहने पर उनकी लोकप्रियता और बढ़ गई है। आज पूरी दिल्ली इतनी बड़ी जीत के बाद नतमस्तक है। कश्मीर से कन्याकुमारी तक हमारे नेता शिवराज सिंह चौहान की गिनती देश के सबसे बड़े नेताओं में हो रही है। कार्तिकेय चौहान का यह बयान वायरल हो गया है। कांग्रेस के दिग्विजय सिंह ने इस पर तंज कसते हुए कहा कि भाजपा को शिवराज को पीएम बनाने पर विचार करना चाहिए।

आपके प्यार और सम्मान की वजह से ही यहां तक ​​पहुंचा
वहीं शिवराज सिंह चौहान ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभा को संबोधित किया। शिवराज सिंह चौहान ने कहा- आपके प्यार और सम्मान की वजह से ही मैं यहां तक ​​पहुंचा हूं। मैं आपके चरणों में नतमस्तक हूं। व्यस्तता के कारण मैं नहीं आ पाया, लेकिन अगले हफ्ते जरूर आऊंगा। विकास कार्य निर्बाध जारी रहेंगे। इस कार्यक्रम में भाजपा के जिला अध्यक्ष समेत कई पदाधिकारी मौजूद थे। कार्तिकेय चौहान ने इस मंच का उपयोग कार्यकर्ताओं से विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करने के लिए किया।

...तो शिवराज सिंह चौहान परिवार का दबदबा होगा और मजबूत
एनडीटीवी इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, इन जश्नों के बीच, अटकलों का बाजार भी गर्म है। कयास लगाए जा रहे हैं कि कार्तिकेय चौहान को बुधनी विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में उतारा जा सकता है, जो उनके पिता शिवराज सिंह चौहान के सांसद चुने जाने के बाद खाली हुई थी। यदि वाकई कार्तिकेय चौहान को बुधनी विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में उतार दिया गया तो यह सूबे की सियासत में नकुलनाथ की तरह ही बड़ी एंट्री होगी। इससे इस निर्वाचन क्षेत्र में शिवराज सिंह चौहान परिवार का दबदबा और मजबूत हो जाएगा।