फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेश'INDIA' में नहीं थम रही रार, नीतीश के बाद कांग्रेस पर दोबारा भड़के अखिलेश यादव

'INDIA' में नहीं थम रही रार, नीतीश के बाद कांग्रेस पर दोबारा भड़के अखिलेश यादव

विपक्षी दलों के नए बने 'इंडिया' गठबंधन की गांठ चुनाव से पहले ही ढीली पड़ने लगी है। नीतीश कुमार के बाद अब इस गठबंधन के एक और सहयोगी अखिलेश यादव ने भी कांग्रेस पर सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं।

'INDIA' में नहीं थम रही रार, नीतीश के बाद कांग्रेस पर दोबारा भड़के अखिलेश यादव
Praveen Sharmaछतरपुर। लाइव हिन्दुस्तानFri, 03 Nov 2023 06:37 PM
ऐप पर पढ़ें

विपक्षी दलों के नए बने 'इंडिया' गठबंधन की गांठ चुनाव से पहले ही ढीली पड़ने लगी है। नीतीश कुमार के बाद अब इस गठबंधन के एक और सहयोगी अखिलेश यादव ने भी कांग्रेस पर सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए छतरपुर के चंदला में समाजवादी पार्टी (सपा) प्रत्याशी के समर्थन में चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे सपा अध्यक्ष अखिलाेश यादव ने शुक्रवार को कहा कि कांग्रेस और बीजेपी में फर्क नहीं है।

अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादियों की लड़ाई अलग है। ये कांग्रेस और बीजेपी के लोगों के बीच की लड़ाई है। उन्होंने कहा कि अगर सिद्धांत और कार्यक्रम के रूप में देखोगे तो यह दोनों दल एक जैसे हैं। पहले बीजेपी और कांग्रेस इन दोनों के सिद्धांत एक रहे हैं। जो पहले कभी बीजेपी में थे वो कांग्रेस में पहुंच गए और जो कांग्रेस में थे वो बीजेपी में पहुंच गए। उन्होंने कहा कि ऐसा करने से क्या बदलाव हुआ कोई हमें बताए। इसलिए बदलाव के लिए और एक नए रास्ते के लिए मैं आपसे अपील करने आया हूं।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि अगर आप गहराई से देखोगे तो कांग्रेस और बीजेपी में कोई फर्क नहीं है, उनके कार्यक्रमों और सिद्धांतों में कोई फर्क नहीं है। कांग्रेस और बीजेपी दोनों एक हैं। पहले बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर द्वारा बनाए संविधान में दिए गए आरक्षण को पहले कांग्रेस ने लागू नहीं होने दिया था, समाजवादियों के के बड़े संघर्ष, लड़ाई और दबाव के बाद मंडल कमीशन लागू किया गया था। उसके बाद ही दलित और पिछड़ों को उनका हक और सम्मान मिला था। पहले हमें कांग्रेस रोकती थी और अब भाजपा रोक रही है।'  

अखिलेश यादव ने कहा कि मध्य प्रदेश के लोगों ने बड़े करीब से देखा है कि गठबंधन को धोखा देने का काम किसी ने किया है तो वो कांग्रेस ने किया है। लोकसभा का चुनाव जब आएगा तो गठबंधन की बात होगी। एनडीए को हराने का काम पीडीए की ताकत करेगी। मुझे खबर मिली है कि मध्य प्रदेश में जितने संभाग नहीं हैं, भाजपा मुख्यमंत्री पद के उतने प्रत्याशियों को लिए घूम रही है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें