फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशMP में नदी बनी काल, एक-दूसरे को बचाने में डूब गए परिवार के तीन लोग; सभी की मौत

MP में नदी बनी काल, एक-दूसरे को बचाने में डूब गए परिवार के तीन लोग; सभी की मौत

मध्य प्रदेश के उज्जैन में बड़ा हादसा सामने आया है। यहां क्षिप्रा नदी में एक ही परिवार के तीन लोगों की डूबने से मौत हो गई। यह हादसा एक-दूसरे को डूबने से बचाने के दौरान हुआ है।

MP में नदी बनी काल, एक-दूसरे को बचाने में डूब गए परिवार के तीन लोग; सभी की मौत
Mohammad Azamलाइव हिन्दुस्तान,उज्जैनFri, 26 Apr 2024 06:33 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में गुरुवार शाम क्षिप्रा नदी में एक दूसरे की बचाने में बड़ा हादसा हो गया। नदी में पैर फिसलने से एक महिला नदी में गिर जाने पर डूबने लगी। महिला को बचाने के लिए नाबालिग युवक ने क्षिप्रा नदी में छलांग लगा दी। इस दौरान नाबालिग भी डूबने लगा। नाबालिग को डूबते देख दूसरी महिला भी कूद गई। इस घटना में एक-एक करके तीनों की डूबकर मौत हो गई। मामले की सूचना मिलने पर पुलिस और प्रशासन की टीम भी मौके पर पहुंच गई। गोताखोरों की मदद से तीनों के शवों को बाहर निकाला। एम्बुलेंस की मदद से स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने तीनों को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने तीनों के शव को पोस्टमार्टम हाउस भिजवा दिया है।

मामला उज्जैन जिला मुख्यालय से 50 किमी दूर महिदपुर का है। यहां गुरुवार शाम महिदपुर किले के समीप शिप्रा नदी के रावला घाट पर बनी सिढ़ियों पर जाने के दौरान एक महिला का पैर फिसल गया। पैर फिसलने की वजह से वह नदी में गिर गई। महिला को बचाने के लिए दूसरी महिला और नाबालिग भी नदी में उतरे और डूब गए। 

बताया जा रहा है कि तीनों एक ही परिवार के हैं। सूचना पर पहुंचे गोताखोरों ने नदी से बुलबुल, निवासी शिकारी गली उज्जैन, शाइन पत्नी आफताब उम्र 24 वर्ष निवासी नागौरी मोहल्ला महिदपुर और वकार पुत्र अबरार अहमद उम्र 17 वर्ष निवासी नागौरी मोहल्ला महिदपुर के शवों को नदी से निकाला है। एक ही परिवार के तीन लोगों के डूबने की सूचना पर मौके पर भारी भीड़ एकत्र हो गई थी। पुलिस ने मामले में मर्ग कायम किया है।

इस घटना के बारे में जानकारी देते हुए महीदपुर थाना प्रभारी राजवीर सिंह ने बताया कि गुरुवार को एक परिवार के लोग किले पर घूमने गए थे। यहां शिप्रा नदी पर बने रावल घाट पर एक महिला गई थी। जिसका पैर घाट पर बनी सिढ़ियों से फिसल गया और वह गहरे पानी में चली गई। महिला ने शोर मचाया तो दूसरी महिला उसे बचाने पहुंची। इस दौरान दूसरी महिला भी नदी में डूब गई। दोनों महिलाओं को बचाने गए एक नाबालिग की भी नदी में डूबने से मौत हो गई। इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने शोर मचाया तो तैराक और पुलिस मौके पर पहुंचे। हालांकि, काफी देर हो चुकी थी। इस घटना में एक ही परिवार को तीन लोगों की मौत हो गई।

इनपुट: विजेंद्र यादव