फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशMP में 15 करोड़ के सट्टे का सरगना गिरफ्तार, कई देश और प्रदेशों से जुड़े तार; छापे में मिला था नोटों का अंबार

MP में 15 करोड़ के सट्टे का सरगना गिरफ्तार, कई देश और प्रदेशों से जुड़े तार; छापे में मिला था नोटों का अंबार

मध्य प्रदेश पुलिस की छापेमारी के दौरान मुख्य सरगना पीयूष चोपड़ा मौके से फरार हो गया था। पुलिस ने उस पर 10 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया था, जिसे पुलिस ने अब गिरफ्तार कर लिया है। 

MP में 15 करोड़ के सट्टे का सरगना गिरफ्तार, कई देश और प्रदेशों से जुड़े तार; छापे में मिला था नोटों का अंबार
Praveen Sharmaउज्जैन। लाइव हिन्दुस्तानSun, 16 Jun 2024 11:39 AM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश के उज्जैन में टी-20 क्रिकेट वर्ल्ड कप मैच के दौरान करोड़ों का सट्टा लगाने वाले गैंग के फरार मुख्य सरगना पीयूष चोपड़ा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने इस मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए 15 करोड़ रुपये नकद जब्त किए थे। पुलिस की इस कार्रवाई में नौ लोगों को गिरफ्तार किया गया था और मुख्य सरगना फरार चल रहा था।

पुलिस 2 दिनों से फरार चल रहे पीयूष चोपड़ा के ठिकानों पर लगातार दबिश दे रही थी। सट्टेबाजों से मिली इतनी बड़ी रकम को देखते हुए ईडी और इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की टीम ने भी इस मामले में जांच-पड़ताल शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि क्रिकेट के इस सट्टेबाज के कई देशों से संपर्क मिल रहे हैं।

बता दें कि, उज्जैन शहर में गुरुवार शुक्रवार की दरम्यानी रात पुलिस ने क्रिकेट के सट्टेबाजों के इंदौर रोड और मुसद्दीपुरा स्थित दो ठिकानों पर छापेमारी की थी। इस दौरान पुलिस को 15 करोड़ रुपये के करीब कैश और अन्य देशों की करेंसी के साथ चांदी की सिल्लियां भी मिली थीं। पुलिस ने इस मामले का पर्दाफाश करते हुए बताया था कि यह गैंग हाईटेक तरीके से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रिकेट का ऑनलाइन सट्टा संचालित कर रहा था। इस दौरान पुलिस ने पंजाब, राजस्थान और मध्य प्रदेश के नीमच के 'एक्सपर्ट सैटरडे' को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया था।

उज्जैन के आईजी संतोष कुमार सिंह ने इस मामले का खुलासा करते हुए बताया था कि गिरफ्तार किए गए बुकीज हाईटेक तरीके से जूम मीटिंग और अन्य एप्लीकेशन के माध्यम से ऑनलाइन सट्टेबाजी करते थे। एक ही समय पर कई लोग इस लाइन पर जुड़े रहते थे और साथ ही इसकी लिखा-पढ़ी की जाती थी। इस ऑनलाइन सट्टे में 25 हजार रुपये से लेकर 25 लाख रुपये तक की ऑनलाइन सट्टाबाजी हो रही थी।

पुलिस ने 10 हजार रुपये का रखा था इनाम 

पुलिस की छापेमारी के दौरान मुख्य सरगना पीयूष चोपड़ा मौके से फरार हो गया था। पुलिस ने उस पर 10 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया था, जिसे पुलिस ने अब गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी बिल्डर के अलावा प्रॉपर्टी का भी कामकाज करता है।

उज्जैन पुलिस अधीक्षक प्रदीप शर्मा ने चर्चा के दौरान बताया कि सट्टेबाजी के मुख्य आरोपी पीयूष चोपड़ा को हिरासत में ले लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है। इतनी बड़ी रकम मिलने पर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को जानकारी दी गई है। ऑनलाइन सट्टेबाजी के हाईटेक तरीके सामने आने के बाद मध्य प्रदेश पुलिस की टीम पंजाब, राजस्थान और नीमच में भी जांच-पड़ताल करने जाएगी। इस मामले में गिरफ्तार सभी 9 आरोपियों की 20 जून तक पुलिस रिमांड दी गई है। पुलिस को पूछताछ में कई देशों में पीयूष के संपर्क की जानकारी मिली है। पुलिस इस मामले में अभी पूछताछ के साथ जांच-पड़ताल में लगी हुई है। इन सभी के नाम का खुलासा भी जल्द किया जाएगा।

रिपोर्ट विजेन्द्र यादव