फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशएमपी में सीएम पर फैसला नहीं, उससे पहले विधायक मैंदोला को बताया गृह मंत्री, तस्वीर वायरल

एमपी में सीएम पर फैसला नहीं, उससे पहले विधायक मैंदोला को बताया गृह मंत्री, तस्वीर वायरल

मध्य प्रदेश में सीएम चेहरे पर फैसला नहीं होने से पहले ही भाजपा विधायक रमेश मेंदोला मंगलवार को अचानक सोशल मीडिया पर छा गए। उन्हें सूबे का गृह मंत्री बताते हुए एक तस्वीर वायरल की गई।

एमपी में सीएम पर फैसला नहीं, उससे पहले विधायक मैंदोला को बताया गृह मंत्री, तस्वीर वायरल
Krishna Singhलाइव हिंदुस्तान,इंदौरTue, 05 Dec 2023 11:32 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश में अभी सीएम चेहरे पर फैसला नहीं हुआ है। उससे पहले ही ऐसी घटना हुई जिससे अधिकारियों के हाथपांव फूल गए। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में सबसे बड़े अंतर से जीत दर्ज करने वाले भाजपा के विधायक रमेश मैंदौला मंगलवार को अचानक सोशल मीडिया पर छा गए। अज्ञात तत्वों ने उनकी एक तस्वीर में कथित रूप से छेड़छाड़ कर उसे सोशल मीडिया पर डाल दी। तस्वीर में उन्हें नेमप्लेट थामे दिखाया गया था। इसमें उनके नाम के आगे 'गृह एवं परिवहन मंत्री, मध्य प्रदेश सरकार' लिखा गया था। 

ऐसे में जब सूबे का सीएम फेस तय नहीं हुआ है और कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं है। विधायक रमेश मैंदौला को सूबे का गृह मंत्री बताए जाने संबंधी तस्वीर तेजी से वायरल होने लगी। रमेश मैंदौला को जब इसकी जानकारी मिली तो वह तुरंत हरकत में आ गए। उन्होंने यहां पुलिस से शिकायत की कि अज्ञात तत्वों ने उनकी एक तस्वीर के साथ छेड़छाड़ कर के उसे सोशल मीडिया पर डाल दिया है।

इंदौर-2 क्षेत्र के नवनिर्वाचित भाजपा विधायक मैंदौला की शिकायत के मुताबिक, उनकी छवि धूमिल करने के लिए यह तस्वीर डाली गई है। इस तस्वीर में उन्हें ऐसी नेमप्लेट थामे दिखाया गया है जिसमें उनके नाम के आगे 'गृह और परिवहन मंत्री, मध्य प्रदेश सरकार' लिखा गया है। यह तस्वीर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। 

इस पर पुलिस आयुक्त मकरंद देउस्कर ने बताया- मुझे मीडिया के जरिये मेंदोला की इस शिकायत के बारे में पता चला है। हम जांच करके पता लगाएंगे कि सोशल मीडिया पर उनकी संबंधित तस्वीर डालने के पीछे किन लोगों का हाथ है। मैंदौला द्वारा फर्जी बताई जा रही तस्वीर ऐसे वक्त सोशल मीडिया पर सामने आई, जब विधानसभा चुनाव के तीन दिसंबर को आए परिणाम में भाजपा के प्रचंड बहुमत से राज्य की सत्ता में बरकरार रहने पर अगले मुख्यमंत्री और मंत्रियों को लेकर अटकलों का दौर तेज हो गया है।

इंदौर-2 क्षेत्र से लगातार चौथी बार विधायक चुने गए मैंदौला भी मंत्री पद के दावेदारों में गिने जा रहे हैं। रमेश मैंदोला ने कहा- मैंने शिकायत कर दी है। मैं पार्टी का साधारण कार्यकर्ता हूं। पार्टी ने मुझे जब जो काम सौंपा मैंने पूरा किया है। पार्टी मुझे जो भी जिम्मेदारी देगी वह करूंगा। वायरल तस्वीर में दिख रहा है कि मैंदोला नेम प्लेट को देखकर मुस्कुरा रहे हैं।

एमपी की इंदौर दो नंबर सीट से रमेश मैंदौला ने प्रदेश में सबसे ज्यादा वोटों से जीत दर्ज की है। मैंदोला ने कुल 1,07,047 मतों की बढ़त लेकर कांग्रेस के चिंटू चौकसे को हराया है। इंदौर जिले की 9 सीटों में इस बार सबसे कम वोटिंग 67.45 फीसदी दो नंबर सीट पर ही हुई थी। इसके बावजूद सबसे बड़ी जीत का रिकार्ड बना। इससे पहले मेंदौला ने साल 2013 में प्रदेश में सबसे ज्यादा वोटों से जीत दर्ज कराई थी। तब उन्हें 91241 की लीड़ मिली थी। वर्ष 2008 में सुरेश सेठ को मेंदौला ने 39 हजार 937 वोटों से हराया था। 

रिपोर्ट- हेमंत नागले

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें