फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेश80 साल के बुजुर्ग को जीवन संगिनी की तलाश, मेट्रीमोनियल साइट Shaadi.Com के नाम पर हो गई ठगी

80 साल के बुजुर्ग को जीवन संगिनी की तलाश, मेट्रीमोनियल साइट Shaadi.Com के नाम पर हो गई ठगी

अपने साथ ठगी होने के बाद अब इस मामले में 80 साल के पीड़ित बुजुर्ग ने मामले की शिकायत एसपी ऑफिस पहुंचकर की है। इधर पुलिस अधिकारियों द्वारा इस मामले में विवेचना की जा रही है और कार्रवाई जारी है।

80 साल के बुजुर्ग को जीवन संगिनी की तलाश, मेट्रीमोनियल साइट Shaadi.Com के नाम पर हो गई ठगी
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,ग्वालियरTue, 09 Jan 2024 08:05 PM
ऐप पर पढ़ें

पत्नी का निधन होने के बाद दूसरी शादी के लिए shaadi.com के माध्यम से जीवन संगिनी की तलाश करना ग्वालियर के एक बुजुर्ग को भारी पड़ा गया है। उनसे ना सिर्फ टोकन अमाउंट के नाम पर पैसे ले लिए गए बल्कि पैसे लेने वाले लोगों ने अब अपने मोबाइल भी बंद कर लिए हैं। ऐसे में 80 साल के पीड़ित बुजुर्ग ने मामले की शिकायत एसपी ऑफिस पहुंचकर की है। पुलिस अधिकारियों द्वारा इस मामले में विवेचना की जा रही है।

दरअसल मध्य प्रदेश के ग्वालियर के रहने वाले हीरालाल खटीक की पत्नी की कुछ वर्ष पहले मौत हो चुकी है। ऐसे में हीरालाल द्वारा दूसरी शादी करने के लिए shaadi.com के माध्यम से कुछ नंबरों पर संपर्क किया गया था। इसके बाद उनसे टोकन अमाउंट जमा करने के लिए कहा गया था। जिसके बाद उन्होंने ₹7000 टोकन राशि के रूप में जमा भी कर दिए थे। उनका दावा है कि बाद में जिन नंबरों पर उनसे संपर्क किया गया था वह नंबर स्विच ऑफ आने लगे। ऐसे में पीड़ित ने मंगलवार को एसपी ऑफिस पहुंचकर पुलिस अधिकारियों से मदद की गुहार लगाई है।

हीरालाल को जब एहसास हो गया की उसके साथ धोखाधड़ी हो चुकी है जिसकी गुहार देकर वे सीधे जनसुनवाई में पहुंचे। हालांकि, इस मामले में जब हीरालाल से बात करने का प्रयास किया गया तो वह बात को टालते हुए नजर आए।  वही पुलिस जनसुनवाई में मौजूद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमित मीणा का कहना है कि हीरालाल खटीक की शिकायत पर मामला साइबर सेल को सौंप दिया गया है और उसके साथ ठगी की वारदात करने वाले आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई है।

बता दें कि मेट्रीमोनियल साइट पर कई लोग अक्सर अपने जीवन साथी की तलाश में जाते हैं और कई लोगों को साइट के जरिए जीवन साथी मिल भी जाते हैं। हालांकि, इन साइटों के नाम पर कई बार लोगों के साथ ऑनलाइन धोखाधड़ी भी हो जाती है। ऐसे मामले पहले भी सामने आ चुके हैं।

रिपोर्ट : अमित गौर

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें