फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशमंदिर में फेंका गाय का कटा सिर, MP में थी माहौल बिगाड़ने की साजिश! 4 पर लगा रासुका

मंदिर में फेंका गाय का कटा सिर, MP में थी माहौल बिगाड़ने की साजिश! 4 पर लगा रासुका

घटना के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने भी पुलिस और प्रशासन को इस वारदात के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कदम उठाने का निर्देश दिया था और लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की थी।

मंदिर में फेंका गाय का कटा सिर, MP में थी माहौल बिगाड़ने की साजिश! 4 पर लगा रासुका
Sourabh Jainहिन्दुस्तान टाइम्स,श्रुति तोमर, रतलाम, मध्य प्रदेशSat, 15 Jun 2024 07:10 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश में रतलाम जिले के जावरा में एक मंदिर परिसर में गाय का कटा सिर फेंकने वाले चार युवकों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत कार्रवाई की जाएगी। रतलाम जिला प्रशासन ने सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की साजिश रचने के आरोप में शनिवार को चारों युवकों के खिलाफ यह फैसला लिया है। 

चारों आरोपी युवकों के नाम सलमान मेवाती (21), शाकिर कुरैशी (19), शाहरुख (24) और नौशाद (28) है। इनमें से एक के खिलाफ पहले से 28 आपराधिक मामले दर्ज हैं। इन चारों को गुरुवार रात जावरा के जगन्नाथ महादेव मंदिर में गाय का सिर फेंकने के आरोप में शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया था।

इस बारे में जानकारी देते हुए रतलाम संभाग के पुलिस उपमहानिरीक्षक (DIG) मनोज कुमार सिंह ने बताया, 'उन्होंने इलाके में सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की साजिश रची थी। आरोपियों में से शाकिर और सलमान पड़ोसी हैं और शाकिर के घर लगे CCTV कैमरे ने ही पुलिस को सुराग देते हुए इन चारों को पकड़वाने में मदद की।' DIG ने आगे कहा, 'हमने इन चारों के खिलाफ रासुका लगाने के लिए लिखा था, और जिला कलेक्टर राकेश बाथम ने शनिवार को इस सम्बन्ध में आदेश जारी कर दिया है।' 

आरोपियों को शनिवार को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया। बता दें कि इससे पहले शुक्रवार को पुलिस ने शाकिर और सलमान के अवैध रूप से बने मकानों को भी ढहा दिया था। आरोपियों के खिलाफ IPC की धारा 153 ए (विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी बढ़ाना) और 506 (आपराधिक धमकी) तथा मध्य प्रदेश गोवंश वध प्रतिषेध अधिनियम 2004 के तहत FIR दर्ज की गई है।

घटना के बारे में जानकारी देते हुए सिंह ने बताया, 'शुक्रवार सुबह जब पुजारी गौरव गिरी गोस्वामी मंदिर पहुंचे तो अन्दर उन्होंने गाय का कटा हुआ सिर देखा। ऐसे में उन्होंने स्थानीय लोगों और पुलिस को इस बात की सूचना दी। इसके बाद विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल और अन्य हिंदू संगठनों के सदस्यों ने मिलकर जावरा में अनिश्चितकालीन बंद का आह्वान किया और चार लेन वाले राष्ट्रीय राजमार्ग पर चक्काजाम कर दिया।'

घटना के बाद काफी हंगामा भी हुआ था, जिसके बाद स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े थे और प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज भी किया था। हालांकि आरोपियों के खिलाफ हुई कार्रवाई के बाद शनिवार को स्थिति सामान्य हो गई और बाजार पूरी तरह खुल गए।