फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मध्य प्रदेशखंडवा विवाद में नया मोड़, मुस्लिम परिवार का घर जलाने के आरोपी ने मंदिर में भी की थी तोड़फोड़

खंडवा विवाद में नया मोड़, मुस्लिम परिवार का घर जलाने के आरोपी ने मंदिर में भी की थी तोड़फोड़

मध्य प्रदेश के खंडवा में मुस्लिम परिवार का घर और ऑटो जलाने के मामले में एक नया मोड़ आ गया है। अब एक हिंदू परिवार ने शिकायत की है कि आरोपी बंटी उपाध्याय ने मंदिर में भी तोड़फोड़ की है। पुलिस ने आरोपी...

खंडवा विवाद में नया मोड़, मुस्लिम परिवार का घर जलाने के आरोपी ने मंदिर में भी की थी तोड़फोड़
Deepakलाइव हिंदुस्तान,खंडवाSun, 23 Jan 2022 10:22 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश के खंडवा में मुस्लिम परिवार का घर और ऑटो जलाने के मामले में एक नया मोड़ आ गया है। अब एक हिंदू परिवार ने शिकायत की है कि आरोपी बंटी उपाध्याय ने मंदिर में भी तोड़फोड़ की है। पुलिस ने आरोपी बंटी पर 2 दिन में 6 एफआईआर दर्ज की है। पीड़ित मुस्लिम परिवार ने भी पुलिस अधीक्षक के नाम ज्ञापन देकर आरोपी पर सख्त कार्रवाई करने की मांग की है।

छह मामले दर्ज किए गए
शुक्रवार रात खंडवा के कोड़िया हनुमान मंदिर के पास रहने वाले मुस्लिम परिवार के साथ पहले मारपीट की गई फिर उनके मकान और ऑटो में आग लगा दी गई थी। इसकी शिकायत पीड़ित परिवार ने कोतवाली थाने में की। इस मामले में तब नया मोड़ आया जब इसमें हिंदू परिवार ने भी शिकायत की कि बंटी उपाध्याय ने उन्हें भी घर से बाहर निकालने की धमकी देकर घर के सामने बंधी नेट में आग लगा दी और कपड़े जला दिए। मामला सामने आने के बाद अगले दिन आरोपी बंटी उपाध्याय पर तीन एफआईआर दर्ज की गई। अगले दिन बंटी पर तीन ओर मामले दर्ज किए गए। कोतवाली थाने के टीआई बलजीत सिंह बिसेन ने बताया कि 2 दिन में आरोपी बंटी उपाध्याय के खिलाफ मामले दर्ज कर लिए हैं। 

आरोपी के खिलाफ 28 मुकदमे
कोतवाली थाना इंचार्ज बलजीत सिंह बिसेन ने बताया कि बंटी उपाध्याय आदतन अपराधी है। उसके खिलाफ अब तक 28 केस दर्द हो चुके हैं। जिसमें से एक बार उसे जिलाबदर भी होना पड़ा है। अभी दो दिन के अंदर ही आरोपी पर 6 नए मामले दर्ज हुए हैं। उसके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा। इधर घटना के दूसरे दिन पीड़ित मुस्लिम परिवार ने भी एसपी ऑफिस पहुंच कर न्याय की गुहार लगाई। पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे मुस्लिम परिवार ने कहा कि उन्हें इस नुकसान का मुआवजा दिलाया जाए। साथ ही आरोपी को गिरफ्तार कर उस पर सख्त कार्यवाही की जाए।