फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशपूरे देश की बीजेपी ने घेरा, नकुल नाथ छिंदवाड़ा की हार पर क्या बोले

पूरे देश की बीजेपी ने घेरा, नकुल नाथ छिंदवाड़ा की हार पर क्या बोले

छिंदवाड़ा लोकसभा सीट से चुनाव हारने के बाद कांग्रेस के उम्मीदवार नकुल नाथ ने भाजपा पर बड़ा आरोप लगाया है। नकुल नाथ ने कहा कि इस चुनाव को जीतने के लिए भाजपा की ओर से सारे हथकंडे अपनाए गए।

पूरे देश की बीजेपी ने घेरा, नकुल नाथ छिंदवाड़ा की हार पर क्या बोले
Subodh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,छिंदवाड़ाWed, 05 Jun 2024 01:16 PM
ऐप पर पढ़ें

छिंदवाड़ा लोकसभा सीट से चुनाव हारने के बाद कांग्रेस के उम्मीदवार नकुल नाथ ने भाजपा पर बड़ा आरोप लगाया है। नकुल ने कहा कि छिंदवाड़ा को पूरे देश की भाजपा ने घेरा। हमारे कांग्रेस परिवार को डर, दबाब और सत्ता का दुरुपयोग कर तोड़ा और इस चुनाव को जीतने के लिए सारे हथकंडे अपनाए। लेकिन, इन विषम परिस्थितियों में भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जबरदस्त मेहनत की और हमारा साथ दिया।

नकुल ने कहा, 'मैं आप सभी का सदैव ऋणि रहूंगा। हर परिस्थिति में, सुख में दुख में, आपके और छिंदवाड़ा के लोगों के परिवार के साथ हूं। उन लाखों मतदाताओं का आभार, जिन्होंने मुझपर अपना विश्वास व्यक्त किया और मुझे अपना मत आशीर्वाद के रूप में दिया।' नकुल ने आगे कहा कि संविधान, लोकतंत्र और आरक्षण बचाने के लिए देश के युवाओं, महिलाओं और वंचितों ने आगे आकर पूरे जजज्बात के साथ अपनी जिम्मेदारी निभाई है।

नकुल ने इंडिया गठबंधन का साथ देने पर समस्त मतदाताओं एवं वीर योद्धाओं का धन्यवाद किया। सोशल मीडिया पर अपने एक्स अकाउंट पर नकुल ने लिखा, 'विजयी हुए कांग्रेस एवं इंडिया गठबंधन के समस्त प्रत्याशियों को मेरी ओर से शुभकामनाएं।'

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा लोकसभा सीट पर कांग्रेस का दबदबा खत्म हो गया। भाजपा के विवेक बंटी साहू ने कांग्रेस के नकुल नाथ को 1 लाख 13 हजार 618 वोटों से हरा दिया। बता दें कि कांग्रेस के दिग्गज नेता कमलनाथ नौ बार, उनकी पत्नी अलका नाथ एक बार और उनके बेटे नकुल नाथ ने इस सीट से एक बार जीत दर्ज की है।

कांग्रेस की पारंपरिक और उसके उम्मीदवार नकुल नाथ की पारिवारिक सीट पर इस बार कांटे की टक्कर देखने को मिली। नकुल नाथ के पिता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ यहां से नौ बार सांसद चुने जा चुके हैं। उनकी पत्नी अलका नाथ भी एक बार यहां से चुनाव जीत चुकी हैं। 1980 से लगातार जीतते आ रहे कमलनाथ 1996 के चुनाव से पहले हवाला केस में घिर गए थे। तब उन्होंने इस सीट से अपनी पत्नी अलका नाथ को मैदान में उतारा था, जो विजयी रही थीं।

2019 में नकुल नाथ यहां से जीते थे। यह सीट कांग्रेस का अभेद किला रहा है। 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी प्रदेश की 29 में से 28 सीटों पर कमल खिलाने में कामयाब रही, लेकिन छिंदवाड़ा की सीट कांग्रेस से नहीं छिन पाई थी। इस बार बीजेपी ने राज्य की सभी 29 सीटें जीत ली हैं।

Advertisement