फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशनतीजों से पहले एमपी पुलिस का बड़ा ऐक्शन, PM मोदी का डीप फेक वीडियो फैलाने पर केस दर्ज

नतीजों से पहले एमपी पुलिस का बड़ा ऐक्शन, PM मोदी का डीप फेक वीडियो फैलाने पर केस दर्ज

Deepfake Videos of PM Modi: चुनाव नतीजों से पहले एमपी पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए PM मोदी समेत अन्य नेताओं के डीप फेक वीडियो सर्कुलेट करने के मामले में चार केस दर्ज किए हैं। पढ़ें यह रिपोर्ट...

नतीजों से पहले एमपी पुलिस का बड़ा ऐक्शन, PM मोदी का डीप फेक वीडियो फैलाने पर केस दर्ज
Krishna Singhश्रुति तोमर,भोपालMon, 27 Nov 2023 06:23 PM
ऐप पर पढ़ें

Deepfake Videos of PM Modi: मध्य प्रदेश पुलिस ने इंदौर में प्रधानमंत्री मोदी समेत प्रमुख राजनेताओं के तथाकथित 'डीप-फेक' और संपादित वीडियो प्रसारित करने के लिए चार मामले दर्ज किए हैं। इन मामलों को देख रहे एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि मूल वीडियो और प्रसारित वीडियो की तुलना करने के बाद कार्रवाई की जा रही है क्योंकि उनके पास डीप-फेक का पता लगाने के लिए सॉफ्टवेयर टूल नहीं हैं। सनद रहे 17 नवंबर को प्रधानमंत्री मोदी ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के इस्तेमाल से 'डीप-फेक' वीडियो से पैदा होने वाले खतरों को लेकर देश को आगाह किया था।

17 नवंबर को ही पीएम मोदी का एक डीप फेक वीडियो सर्कुलेट करने के आरोप में कनाड़िया पुलिस स्टेशन (Kanadiya police station) में एक एफआईआर दर्ज की गई थी जिसमें वह एक गंभीर मुद्दे पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए हंसते हुए दिखाई दे रहे थे। एक व्हाट्सएप यूजर ने यह डीप-फर्जी वीडियो देखने के बाद एफआईआर दर्ज कराई। इस डीप फेक वीडियो में पीएम मोदी के भाषण को संपादित करने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल किया गया था। 

इस डीप फेक वीडियो में पीएम मोदी भाषण के दौरान हंसते नजर आ रहे थे। कनाड़िया थाने के इंस्पेक्टर केपी यादव ने कहा- प्रधानमंत्री का डीप फेक वीडियो उनकी छवि को धूमिल कर रहा है। अधिकारी ने वीडियो का अन्य विवरण साझा करने से इनकार कर दिया। इसके अलावा, डीप फेक वीडियो के मामले में ही तीन अन्य एफआईआर क्राइम ब्रांच, इंदौर ने दर्ज की है। एक वीडियो कांग्रेस नेता कमलनाथ से संबंधित था जिसमें वह भाजपा सरकार की लाडली लक्ष्मी योजना को बंद करने की घोषणा करते दिख रहे हैं। 

कमलनाथ के डीप फेक वीडियो को लेकर मतदान से पहले नवंबर के दूसरे हफ्ते में कांग्रेस नेता राकेश यादव की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज की गई थी। इंदौर 1 से भाजपा उम्मीदवार और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और इंदौर-5 से कांग्रेस उम्मीदवार सत्यनारायण पटेल के वीडियो को लेकर भी मामले दर्ज किए गए हैं। इन नेताओं ने दावा किया था कि मध्य प्रदेश में 17 नवंबर को मतदान से पहले उन्हें राजनीतिक रूप से नुकसान पहुंचाने के लिए उनके 'डीप-फेक' वीडियो सोशल मीडिया पर प्रसारित किए गए थे। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें