फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशविदा करना चाहते हैं तो आपकी मर्जी, तैयार हूं... कार्यकर्ताओं के बीच भावुक हुए कमलनाथ- VIDEO

विदा करना चाहते हैं तो आपकी मर्जी, तैयार हूं... कार्यकर्ताओं के बीच भावुक हुए कमलनाथ- VIDEO

कमलनाथ ने बुधवार को पार्टी कार्यकर्ताओं की एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि वे विदा करना चाहते हैं। यह तो आपकी मर्जी है। मैं विदा होने के लिए तैयार हूं। मैं खुद को थोपना नहीं चाहता हूं।

विदा करना चाहते हैं तो आपकी मर्जी, तैयार हूं... कार्यकर्ताओं के बीच भावुक हुए कमलनाथ- VIDEO
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,छिंदवाड़ाWed, 28 Feb 2024 09:01 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस के कद्दावर नेता कमलनाथ ने अपने बयान से फिर सियासी अटकलों को हवा दी है। कमलनाथ ने बुधवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं की एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि वे विदा करना चाहते हैं। यह तो आपकी मर्जी है। मैं विदा होने के लिए तैयार हूं। मैं अपने आप को थोपना नहीं चाहता हूं। इस दौरान कमलनाथ भावुक भी नजर आए। सनद रहे हाल ही में कमलनाथ और उनके बेटे नकुलनाथ के भाजपा में जाने की अटकलों ने सूबे के सियासी माहौल को गरमा दिया था। 

कमलनाथ छिंदवाड़ा जिले की चौरई विधानसभा क्षेत्र के चांद में ब्लॉक कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आपने मुझे इतने साल प्यार और विश्वास दिया। वे मुझे विदा करना चाहते हैं। मैं तो विदा होने के लिए तैयार हूं। यह तो आपकी मर्जी है। मैं अपने आपको थोपना नहीं चाहता हूं। यह तो आपकी मन-मंशा की बात है।

कमलनाथ ने आगे कहा- यह चुनौती हमारे सामने है। भाजपा बहुत मजबूत और आक्रामक प्रचार कर रही है, लेकिन डरिएगा मत, ये इनका दिखावा होता है। किसी का इंतजार मत करिएगा। यह मत सोचिएगा कि कोई आपको आदेश देगा। किसी ने कहा नहीं फिर हम कैसे करें। यह तो आपको (कार्यकर्ताओं) को खुद करना है। छह हफ्ते की तो बात है। 

उन्होंने कहा कि खुद भविष्य को सुरक्षित रखने के लिए आपको (कांग्रेस कार्यकर्ताओं को) काम करना है। मुझे आप सब पर पूरा विश्वास है। आपने इस नींव को बनाया है। इन बच्चों ने तो बनी बनाई नींव देखी, लेकिन यहां पर जो बुजुर्ग बैठे हैं उन्होंने ही इस नींव को बनाया है। इस नींव को और मजबूत करना होगा। 

कमलनाथ ने हर्रई में भी एक अन्य सभा को भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि राम मंदिर का पट्टा क्या केवल बीजेपी के पास ही है। राम मंदिर के नाम पर राजनीति करना ठीक नहीं है। राम मंदिर आपके पैसों से बना है। राम को राजनीति में लाना सही बात नहीं है। वैसे कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच कमलनाथ के इस बयान के कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं। 

रिपोर्ट- विजेन्द्र यादव

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें