फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशछिंदवाड़ा की बेटी पायल धरे से क्यों मिले पीएम मोदी, कितने तक की पढ़ाई, कैसे पाया मुकाम?

छिंदवाड़ा की बेटी पायल धरे से क्यों मिले पीएम मोदी, कितने तक की पढ़ाई, कैसे पाया मुकाम?

हाल ही में छिंदवाड़ा जिले की 22 वर्षीय गेमर पायल धरे ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से गेमिंग उद्योग की संभावनाओं समेत कई पहलुओं पर प्रधानमंत्री मोदी से खुलकर बातचीत की। जानें कौन हैं पायल धरे...

छिंदवाड़ा की बेटी पायल धरे से क्यों मिले पीएम मोदी, कितने तक की पढ़ाई, कैसे पाया मुकाम?
Krishna Singhएएनआई,छिंदवाड़ाSat, 13 Apr 2024 08:44 PM
ऐप पर पढ़ें

हाल ही में छिंदवाड़ा जिले की 22 वर्षीय गेमर पायल धरे ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) से मुलाकात की थी। पायल ने देश में गेमिंग उद्योग की संभावनाओं समेत कई पहलुओं पर प्रधानमंत्री मोदी से खुलकर बातचीत की। छिंदवाड़ा जिले के उमरानाला गांव की रहने वाली पायल धरे देश के उन सात भारतीय गेमर्स में शुमार हैं, जिन्होंने पीएम के साथ बेबाकी से बातचीत की थी। पायल सात भारतीय गेमर्स में एकमात्र महिला गेमर हैं। 

देश के सात जाने-माने गेमर्स में पायल धरे (Payal Dhare) का नाम भी शामिल है। अन्य चर्चित गेमर्स में अनिमेष अग्रवाल, नमन माथुर, मिथिलेश पाटणकर, तीर्थ मेहता, गणेश गंगाधर और अंशू बिष्ट शामिल हैं। पायल धरे ने पीएम मोदी से मिलकर अपनी खुशी जाहिर की। पायल ने कहा कि पीएम मोदी से मिलने वाली देश की एकमात्र महिला गेमर के रूप में चयनित होने पर वह खुद को सम्मानित महसूस कर रही हैं। 

पालय ने इंस्टाग्राम पर लिखा- प्रधानमंत्री मोदी के साथ ईस्पोर्ट्स, गेमिंग और कंटेंट निर्माण के भविष्य पर चर्चा करने वाली मेज पर एकमात्र महिला गेमर होना सम्मान की बात है। आज सपने हकीकत में बदल गए! हमारी आवाज को पहचानने और इस उद्योग का मार्ग प्रशस्त करने के लिए धन्यवाद... वहीं पायल के माता-पिता ने भी बेटी की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात पर प्रसन्नता जताई। पायल के माता-पिता ने इसे गर्व का क्षण बताया।

पायल धरे के पिता शिवशंकर धरे ने कहा- मेरी बेटी पीएम मोदी से मिली, इस पर मुझे बहुत गर्व और खुशी महसूस हुई। हमने ऐसी कल्पना नहीं की थी। उन्होंने बताया कि पायल ने लॉकडाउन अवधि के दौरान एक गेमिंग चैनल बनाया, धीरे-धीरे छिंदवाड़ा में सेटअप तैयार किया और यूट्यूब पर ऑनलाइन गेमिंग शुरू की। पायल की एजुकेशन के बारे में बताते हुए पिता शिवशंकर ने कहा कि पायल ने 12वीं कक्षा तक छिंदवाड़ा में ही पढ़ाई की। फिर भिलाई में एक कॉलेज से बीकॉम किया। 

पायल की मां संगीता धरे ने कहा- मेरी तीन बेटियां हैं। सबसे बड़ी अंजलि की शादी नागपुर में हो चुकी है, दूसरी पायल है और सबसे छोटी भूमिका है। भूमिका ने अभी 12वीं पास की है। मेरी बेटियां अच्छी पढ़ाई करें मेरा यही मकसद था। ऐसा इसलिए नहीं कि वे नौकरी करें। मैं चाहती हूं कि मेरी बेटियां जिस परिवार में जाएं, अपनी पीढ़ी का सही मार्गदर्शन कर सकें। मेरा मानना है कि लड़कियों की शिक्षा अच्छी होनी चाहिए।मुझे बेहद खुशी है कि मेरी बेटी इतना नाम कमा रही है। 

समाचार एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रधानमंत्री मोदी ने जुए और गेमिंग के बीच के अंतर समेत कई पहलुओं पर जाने-माने गेमर्स के साथ खुलकर बातचीत की। बातचीत का पूरा वीडियो शनिवार को जारी किया गया। इस वीडियो में पीएम मोदी गेमर्स से तरह-तरह के सवाल पूछते नजर आए। पीएम मोदी ने गेमर्स से पीएमओ को सटीक बिंदुओं के साथ अपनी समस्याएं एक ई-मेल भेजने के लिए भी कहा।

पायल की मां संगीता धरे से जब बेटियों की कमाई के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उन्होंने कभी उनकी आमदनी के बारे में नहीं पूछा। बेटियों ने जो भी दिया उसे स्वीकार कर लिया। बेटियों ने माता-पिता को एक थार तोहफे में दी है। बेटियां अपने माता-पिता के लिए एक घर भी बनवा रही हैं। छिंदवाड़ा से मुंबई शिफ्ट होने के बारे में उन्होंने बताया कि जब पायल की फैन फॉलोइंग बढ़ गई तो वह एक गेमिंग बूट कैंप में शामिल होती थीं जो मुंबई में था। पायल को वहां बार बार जाना पड़ता था। इससे परेशानी होती थी। इसी वतह से उसे मुंबई शिफ्ट होने के लिए कहा। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें