फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशMP Weather: एमपी में बदला मौसम का मिजाज, बारिश और ओले को रहें तैयार; बर्फीली हवाओं से ठिठुरन बढ़ी

MP Weather: एमपी में बदला मौसम का मिजाज, बारिश और ओले को रहें तैयार; बर्फीली हवाओं से ठिठुरन बढ़ी

मध्य प्रदेश में मौसम का मिजाज बदल गया है। भोपाल उज्जैन सहित कई जिलों में बारिश हो रही है। घने कोहरे के साथ तेज हवाओं ने ठिठुरन बढ़ा दी है। बर्फीली हवाओं से लोगो की परेशानी बढ़ गई है।

MP Weather: एमपी में बदला मौसम का मिजाज, बारिश और ओले को रहें तैयार; बर्फीली हवाओं से ठिठुरन बढ़ी
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,भोपालWed, 10 Jan 2024 12:24 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश के मौसम में आए बदलाव से जनजीवन प्रभावित है। कई ट्रेनें घने कोहरे की वजह से लेट चल रही है। वहीं उज्जैन, सीहोर, भोपाल, छिंदवाड़ा सहित प्रदेशों के कई हिस्सों में रिमझिम बारिश हो रही है। घने कोहरे के साथ तेज हवाओं ने ठिठुरन बढ़ा दी है। कई शहरों में विजिबिलिटी कम है। 50 मीटर दूर तक देखना भी मुश्किल हो गया है। बुधवार सुबह भोपाल, सीहोर, उज्जैन समेत मध्यप्रदेश के कई शहरों में कोहरे के साथ बारिश हुई। ग्वालियर के बाद टीकमगढ़ और खजुराहो भी ठंडे रहे। टीकमगढ़ में अधिकतम पारा 17 डिग्री और खजुराहो में 19.4 डिग्री दर्ज किया गया। 

गुना, नौगांव, सतना, रीवा, रतलाम, सीधी, पचमढ़ी, शाजापुर में तापमान 25 डिग्री से नीचे रहा। भोपाल, उज्जैन, कटनी, इंदौर, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, देवास, विदिशा, राजगढ़, नीमच समेत आधे से ज्यादा प्रदेश घने कोहरे की चादर में लिपटा रहा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने शीतघात और शीत लहर को लेकर पर्याप्त सावधानी बरतने की नागरिकों से अपील की है। बर्फीली हवाओं से लोगो की परेशानी बढ़ गई। ज्यादा कोहरा होने की वजह से थोड़ी दूरी के वाहन नजर नहीं आ रहे थे।

सीहोर जिले में बुधवार को इस सीजन का सबसे घना कोहरा देखने को मिला। इसका अनुमान इसी बात से लगाया जा सकता है कि विजिबिलिटी मुश्किल से 10 मीटर तक रही। बीते 24 घंटे के दौरान न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले कुछ दिन ऐसा ही मौसम रहेगा। सड़क किनारे लगे पेड़ों पर ओस जमा है जो हवा चलने पर जमीन पर गिर रही है। इससे पेड़ों के नीचे बारिश जैसा एहसास हो रहा है। 

सीनियर मौसम वैज्ञानिक दिव्या सुरेंद्रन ने बताया कि वेस्टर्न डिस्टरबेंस के असर से मौसम बदला है। यह सिस्टम 12 जनवरी तक रहेगा। बुधवार को कुछ हिस्सों में हल्की बारिश और ओले भी गिर सकते हैं। अगले दो से तीन दिन तक कोहरा रहेगा। सिस्टम के गुजरने के बाद रात के तापमान में गिरावट आएगी। आज इंदौर, उज्जैन, ग्वालियर, चंबल संभाग के जिलों और हरदा में बारिश होने के आसार हैं। बड़े शहरों की बात करें, तो मंगलवार को ग्वालियर सबसे ठंडा रहा। 6 डिग्री की गिरावट के साथ दिन का पारा 14.2 डिग्री पर आ गया। उज्जैन में अधिकतम तापमान 24.7 डिग्री, भोपाल में 27.7 डिग्री, इंदौर में 27.8 डिग्री और जबलपुर में सबसे ज्यादा 28.5 डिग्री रहा।

रिपोर्ट- विजेन्द्र यादव

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें