DA Image
17 सितम्बर, 2020|12:54|IST

अगली स्टोरी

MP: रिपोर्टर्स से बचने को मंत्री ने तबीयत खराब होने का बनाया बहाना, प्रदेश में आग की तरह फैल गई कोरोना की अफवाह

मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार में मंत्री के एक बयान ने उन्हें पूरे प्रदेश में चर्चाओं में ला दिया है। अचानक से मंत्री के फोन घनघनाने लगे और लोग खैरियत पूछने लग गए। दरअसल, महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी को कोरोना के लक्षण होने की खबर प्रदेश में आग की तरह फैल गई। लोग फोन कर उनका हालचाल पूछने लगे। लेकिन बाद में वे भारतीय जनता पार्टी की डबरा विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं की बैठक में शामिल हुईं और भाजपा नेताओं से कहा कि मुझे कोरोना के लक्षण नहीं हैं। मैंने तो मीडियाकर्मियों से बचने के लिए तबीयत खराब होने की बात कही थी।

सितंबर के पहले दिन कोरोना के कहर में दिखी कमी, पिछले 24 घंटे में 70 हजार के करीब केस, 819 मौतें

दरअसल हुआ यूं कि सोमवार को कलेक्ट्रेट में आयोजित दिशा की बैठक में महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी शामिल भी हुईं थीं। बैठक के समाप्त होने के बाद जब मीडियाकर्मियों ने उनसे सवाल करने चाहे तो उन्होंने कहा कि मेरे गले में तेज दर्द हो रहा है। अभी मैं घर जाना चाहती हूं। मंत्री के निजी सहायक ने भी बीमारी की बात कहकर मीडियाकर्मियों को सवाल पूछने से रोक दिया। बाद में झांसी रोड स्थित इमरती देवी के बंगले पर पहुंचे मीडियाकर्मियों से भी पीए मृगेंद्र कुशवाह ने कहा कि मैडम की तबीयत खराब है। उनके गले, हाथ-पैर में में बहुत तेज दर्द है और वे बात करने की स्थिति में नहीं है। 

सितंबर ढाएगा सितम? भारत में कोविड-19 के आंकड़ों से खौफ, अगस्त में करीब 20 लाख लोगों को हुआ कोरोना

शाम को मंत्री इमरती देवी सिटी सेंटर स्थित एक होटल में आयोजित डबरा विधानसभा क्षेत्र के भाजपा कार्यकर्ताओं की बैठक में शामिल हुईं। मीडियाकर्मियों ने जब मंत्री से तबीयत के बारे में जानना चाहा तो वे मीडिया नाराज हो गईं। उन्होंने बैठक में कहा कि मुझे मीडिया के बीच से निकलना था, इसलिए मैंने तबीयत खराब होने की बात बोली और लोगों ने गलत सोच लिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:MP minister Imarti Devi used the excuse of health to avoid the reporters rumor of coronavirus spread in the state