फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशमेरा बेटा भी इस कोर्ट में कर रहा प्रैक्टिस; जब साहब ने खुद करवा लिया अपना ट्रांसफर

मेरा बेटा भी इस कोर्ट में कर रहा प्रैक्टिस; जब साहब ने खुद करवा लिया अपना ट्रांसफर

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के एक जज ने इसलिए खुद अपना ट्रांसफर करवा लिया क्योंकि उनका बेटा भी अब वहां प्रैक्टिस करने लगा है। जस्टिस सुजॉय पॉल ने दूसरे हाई कोर्ट में अपने ट्रांसफर की अपील की थी।

मेरा बेटा भी इस कोर्ट में कर रहा प्रैक्टिस; जब साहब ने खुद करवा लिया अपना ट्रांसफर
Sudhir Jhaलाइव हिन्दुस्तान,भोपालWed, 14 Feb 2024 02:52 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के एक जज ने इसलिए खुद अपना ट्रांसफर करवा लिया क्योंकि उनका बेटा भी अब वहां प्रैक्टिस करने लगा है। जस्टिस सुजॉय पॉल ने दूसरे हाई कोर्ट में अपने ट्रांसफर को लेकर सुप्रीम कोर्ट कॉलिजियम से प्रार्थना की थी, जिसे स्वीकार कर लिया गया है। जस्टिस पॉल ने 12 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट से अपने ट्रांसफर की गुजारिश की थी।

लाइव लॉ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को जस्टिस पॉल के ट्रांसफर को लेकर एक नोटिफिकेशन जारी किया। जस्टिस पॉल को तेलंगाना हाई कोर्ट ट्रांसफर कर दिया गया है। नोटिफिकेशन में कहा गया है कि न्याय के बेहतर प्रबंधन के लिए ऐसा किया गया है। इसमें कहा गया, '12 फरवरी को जस्टिस सुजॉय पॉल ने इस आधार पर ट्रांसफर की मांग की थी कि उनका बेटा भी मध्य प्रदेश हाई कोर्ट में प्रैक्टिस कर रहा है।' बताया जा रहा है कि जस्टिस पॉल ने हितों के टकराव से बचने के लिए ऐसा किया।

कॉलीजियम ने जस्टिस पॉल की अपील को स्वीकार कर लिया। अब वह तेलंगाना हाई कोर्ट में जिम्मेदारी संभालेंगे। नोटिफिकेशन में सीजेआई डीवाई चंद्रचूड़, जस्टिस संजीव खन्ना, जस्टिस बीआर गवई, जस्टिस सूर्य कांत और जस्टिस अनिरुद्ध बोस के हस्ताक्षर हैं। जस्टिस पॉल के अलावा जस्टिस मौसमी भट्टाचार्य के ट्रांसफर अपील को भी स्वीकार किया गया है। उन्हें भी तेलंगाना हाई कोर्ट भेजा गया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें