फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशएमपी में सरेआम माइक पर सर तन से जुदा करने की धमकी, सीएम सख्त, दिए जांच के निर्देश

एमपी में सरेआम माइक पर सर तन से जुदा करने की धमकी, सीएम सख्त, दिए जांच के निर्देश

मध्य प्रदेश के दमोह में माहौल बिगाड़ने की कोशिश करने की घटना को मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने गंभीरता से लिया है। मुख्यमंत्री ने दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

एमपी में सरेआम माइक पर सर तन से जुदा करने की धमकी, सीएम सख्त, दिए जांच के निर्देश
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,भोपालMon, 05 Feb 2024 04:04 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश के दमोह में माहौल बिगाड़ने की कोशिश करने के मामले में 40 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। सांप्रदायिक सौहार्द को बिगाड़ने का प्रयास करने और सरेआम हजारों की भीड़ में पुलिस के सामने सर तन से जुदा करने की धमकी देने की घटना को मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने गंभीरता से लिया है। मुख्यमंत्री ने दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए हैं। सीएम ने दो-टूक शब्दों में कहा है कि सूबे में शांति कायम रखना सरकार की पहली प्राथमिकता है।

मुख्यमंत्री मोहन यादव ने ट्वीट कर कहा- प्रदेश में शांति और कानून व्यवस्था बनाये रखना हमारी प्राथमिकता है। दमोह की घटना की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए गए हैं। वहीं मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर पोस्ट किया गया। दमोह में उपद्रवियों ने कानून और व्यवस्था को बिगाड़ने का प्रयास किया, जिसे पुलिस-प्रशासन ने समय पर संभाल लिया।  

दरअसल, एक टेलर की दुकान पर कपड़े सिलवाने को लेकर दर्जी के साथ कुछ लोगों का विवाद हो गया। इसके बाद देर रात दो पक्ष आमने सामने आ गए। समुदाय विशेष के हजारों लोगों ने कोतवाली थाने का घेराव किया। वहीं भीड़ में शामिल एक व्यक्ति ने माइक से पुलिस प्रशासन के सामने ही उन लोगों के हाथ काटने तक की धमकी दे डाली, जिनका टेलर से विवाद हुआ था। इस दौरान हजारों की भीड़ और पुलिस के सामने नारेबाजी की घटना हुई। 

अकरम नाम के व्यक्ति ने माइक पर पुलिस प्रशासन को भी खुली चुनौती दी। यही नहीं उसने आरोपियों का सर कलम करने की धमकी तक दी। उसने कहा कि यदि 24 घंटे के भीतर पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया तो आरोपियों के न हाथ रहेंगे और ना ही गर्दन। इसके बाद वहां मौजूद थाना प्रभारी आनंद सिंह ठाकुर अकेले ही धमकी देने वाले शख्स को जमकर फटकारा और कानून को उसका काम करने देने की बात कही। उन्होंने धमकी देने वाले से कहा कि मैं अकेला हूं किसी में दम हो तो हाथ लगाकर दिखाए।  

बताया जाता है कि सरेआम माइक से धमकी देने वाले को फटकारने का साहस जुड़ाने वाले थाना प्रभारी के सख्त रुख के कारण महौल बिगाड़ने की कोशिश करने वालों के मंसूबों पर पानी फिर गया। माहौल तनावपूर्ण होता देख आसपास से और फोर्स बुला ली गई। पुलिस प्रशासन ने इलाके में फ्लैग मार्च किया। भीड़ भी तितर बितर हो गई। सीएम ने पुलिस की तत्परता की सराहना की है।

बताया जाता है कि इलाके में अभी भी पुलिस बल तैनात हैं। फिलहाल इलाके में शांति है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि वीडियो फुटेज की छानबीन की जा रही है। आरोपियों की पहचान हो जाने के बाद उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस घटनाक्रम से जुड़े कई वीडियो फुटेज सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। पुलिस ने अकरम समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। 40 लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया गया है।  

रिपोर्ट- विजेंन्द्र यादव

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें