फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशदो ट्रेनों में टुकड़ों में मिली लाश की सुलझेगी मिस्ट्री, 'मीरा बेन' नाम का मिला टैटू, इनाम की घोषणा

दो ट्रेनों में टुकड़ों में मिली लाश की सुलझेगी मिस्ट्री, 'मीरा बेन' नाम का मिला टैटू, इनाम की घोषणा

इंदौर और ऋषिकेश में दो यात्री ट्रेनों में युवती की टुकड़ों में मिली लाश की गुत्थी सुलझने की ओर है। जीआरपी की इंदौर इकाई के पुलिस अधीक्षक संतोष कोरी ने बताया कि युवती के हाथ पर टैटू मिला है।

दो ट्रेनों में टुकड़ों में मिली लाश की सुलझेगी मिस्ट्री, 'मीरा बेन' नाम का मिला टैटू, इनाम की घोषणा
Krishna Singhभाषा,इंदौरWed, 12 Jun 2024 08:17 PM
ऐप पर पढ़ें

इंदौर और ऋषिकेश में दो यात्री ट्रेनों के भीतर अज्ञात युवती की टुकड़ों में मिली लाश की गुत्थी सुलझाने की कोशिश में जुटी जीआरपी को अहम लीड मिली है। जीआरपी की इंदौर इकाई के पुलिस अधीक्षक संतोष कोरी ने संवाददाताओं को बताया कि युवती के हाथ पर हिन्दी की देवनागरी लिपि में 'मीरा बेन' और 'गोपाल भाई' लिखा टैटू मिला है। जीआरपी ने इस हत्याकांड में पक्का सुराग देने वाले शख्स को 10 हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की है।

जीआरपी के अधिकारी ने बताया कि 20 से 25 साल की उम्र की युवती के दोनों हाथ और दोनों पैर ऋषिकेश में एक यात्री ट्रेन में सोमवार (10 जून) को मिले। युवती की डेड बॉडी के बाकी हिस्से उत्तराखंड की इस धार्मिक नगरी से करीब 1,150 किलोमीटर दूर इंदौर में एक अन्य यात्री ट्रेन से रविवार (नौ जून) को बरामद किए गए।

जीआरपी की इंदौर इकाई के पुलिस अधीक्षक संतोष कोरी ने बताया कि युवती की हत्या के बारे में जो भी व्यक्ति हमें पक्की जानकारी देगा, हम उसे 10,000 रुपये का इनाम देंगे। युवती के हाथ पर हिन्दी में 'मीरा बेन' और 'गोपाल भाई' लिखा मिला है। महिला के नाम के बाद बेन और पुरुष के नाम के बाद भाई का संबोधन आमतौर पर गुजरात में इस्तेमाल किया जाता है। 

हालांकि युवती के हाथ पर मीरा बेन और गोपाल भाई के नाम गुजराती के बजाय देवनागरी लिपि में गुदवाए गए थे। इससे संदेह है कि महिला गुजरात सीमा से सटे मध्य प्रदेश के किसी इलाके की रहने वाली थी। अब जीआरपी की अलग-अलग टीमें इस टैटू के आधार पर गुजरात और मध्य प्रदेश के सीमावर्ती इलाकों में स्थानीय पुलिस की मदद से युवती की शिनाख्त की कोशिशों में जुटी है। 

अधिकारी ने यह भी बताया कि युवती की हत्या करने वाले की पहचान के लिए इंदौर और इसके आस-पास के रेलवे स्टेशनों पर लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाला जा रहा है। जांच अधिकारी ने कहा कि यह तो बिल्कुल साफ है कि आरोपी ने युवती की हत्या के बाद उसकी लाश के टुकड़े अलग-अलग यात्री ट्रेनों में रखकर जांचकर्ताओं को गुमराह करने की कोशिश की। अधिकारी ने पोस्टमॉर्टम करने वाले विशेषज्ञों से बातचीत के हवाले से बताया कि लाश को संभवत: किसी भोथरे हथियार से काटा गया था।