फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशदमोह में पशु तस्करों का उत्पात, मवेशियों से भरा कंटेनर पकड़े जाने पर धारदार हथियारों से हमला

दमोह में पशु तस्करों का उत्पात, मवेशियों से भरा कंटेनर पकड़े जाने पर धारदार हथियारों से हमला

दमोह जिले में पशु तस्करों ने सोमवार देर रात को जमकर उत्पात मचाया। धारदार हथियारों से लैस मवेशी तस्करों ने सड़क पर खड़े लोगों पर उस वक्त हमला बोल दिया जब मवेशियों से लदा एक कंटेनर पकड़ा गया था।

दमोह में पशु तस्करों का उत्पात, मवेशियों से भरा कंटेनर पकड़े जाने पर धारदार हथियारों से हमला
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,दमोहTue, 20 Feb 2024 08:22 PM
ऐप पर पढ़ें

दमोह जिले में पशु तस्करों ने सोमवार देर रात को जमकर उत्पात मचाया। बताया जाता है कि धारदार हथियारों से लैस मवेशी तस्करों ने सड़क पर खड़े लोगों पर उस वक्त हमला बोल दिया जब विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के कार्यकर्ता पुलिसकर्मियों के साथ पशुओं से भरे एक कंटेनर को थाने ले जा रहे थे। हमले में तीन लोग घायल हो गए हैं। पीड़ितों ने बताया कि हमलावर कह रहे थे कि तुम्ही ने हमारे मवेशी पकड़वाए हैं। हमले की सूचना जैसे ही हिंदूवादी संगठनों को लगी बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए और चक्काजाम कर दिया। 

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, पशुओं की तस्करी की खुफिया सूचना मिलने के बाद पुलिस ने सोमवार को देर रात कार्रवाई करते हुए पशुओं से भरे एक कंटेनर को पकड़ लिया। विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के कार्यकर्ता पुलिसकर्मियों के साथ जब कंटेनर को थाने ले जा रहे थे तभी 2 दर्जन से ज्यादा तस्करी से जुड़े लोगों ने धारदार हथियारों से राजनगर चौराहे के पास खड़े कुछ लोगों पर हमला बोल दिया। 

बताया जाता है कि विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के कार्यकर्ता जब चौकी के सामने पहुंचे तब उनको पता चला कि पास में एक डेरी पर रहने वाले लोगों पर पशु तस्करों ने हमला बोल दिया है। हमले में कुछ लोग घायल हुए हैं। इसके बाद हिंदूवादी संगठनों के लोग बड़ी संख्या में जमा हो गए। आक्रोशित भीड़ ने जबलपुर नाका चौकी के समीप चक्काजाम कर दिया। आक्रोशित लोगों ने हमला करने वाले मवेशी तस्करों पर कड़ी कार्रवाई की मांग रखी। जैसे ही पुलिस को इस बवाल की खबर लगी, अमले में हड़कंप मच गया। 

पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कारवाई करने का भरोसा दिया। जिला अस्पताल पहुंचे घायल धनु पटेल, राजू पटेल और शिव यादव ने पुलिस को बताया की वाहनों पर सवार लोग उनके पास पहुंचे। उनके हाथ में कई तरह के हथियार थे। आते ही उन्होंने हम पर हमला किया। वह कह रहे थे कि तुम लोग बजरंग दल से जुड़े हो और तुम लोगों ने ही पुलिस को सूचना देकर हमारे मवेशी पकड़वाए हैं। 

घायलों ने बताया कि यदि वे मौके से नहीं हटते तो आरोपी उनकी हत्या कर देते। हिंदू संगठन से जुड़े अंजू खत्री ने बताया कि संगठन के कुछ लोग मौके पर पहुंचे थे, लेकिन वहां कसाइयों ने उन पर भी हमला कर दिया। वे लोग अपने वाहन छोड़कर भागे। पुलिस तुरंत कार्रवाई के लिए तैयार नहीं थी इसलिए सभी लोग जबलपुर नाका पहुंचे और जाम लगा दिया। बाद में पुलिस अधिकारियों ने उचित कार्रवाई का भरोसा दिया। एडिशनल एसपी संदीप मिश्रा का कहना है आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जा रही है। 

रिपोर्ट-विजेन्द्र यादव

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें