फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशMP में बड़ा हादसा, धार के पाइप फैक्ट्री में लगी भीषण आग; 10 किलोमीटर दूर तक दिख रहा धुआं

MP में बड़ा हादसा, धार के पाइप फैक्ट्री में लगी भीषण आग; 10 किलोमीटर दूर तक दिख रहा धुआं

मध्यप्रदेश के धार जिले की औद्योगिक नगरी पीथमपुर में मंगलवार को एक पाइप फैक्ट्री में भीषण आग लग गई। आग बुझाने के लिए दमकल की करीब 25 गाड़ियां भेजी गईं हैं। यह सुबह सात बजे की घटना है।

MP में बड़ा हादसा, धार के पाइप फैक्ट्री में लगी भीषण आग; 10 किलोमीटर दूर तक दिख रहा धुआं
Devesh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,धारTue, 11 Jun 2024 12:58 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्यप्रदेश के धार जिले की औद्योगिक नगरी पीथमपुर में मंगलवार को एक पाइप फैक्ट्री में भीषण आग लग गई। आग बुझाने के लिए दमकल की करीब 25 गाड़ियां भेजी गईं हैं। यह सुबह सात बजे की घटना है। जानकारी के मुताबिक, पीथमपुर के सेक्टर तीन इलाके के सिग्नेट पाइप फैक्ट्री में सुबह सात बजे अचानक आग लग गई। आग फैक्ट्री के गोदाम में लगी जिससे हजारों पाइप उसकी चपेट में आ गए।

10 किलोमीटर दूर तक दिख रहा धुआं
आग को बुझाने के लिए दमकल की कई गाड़ियां भेजी गईं हैं। आग का धुआं फैक्ट्री से करीब 10 किलोमीटर दूर तक देखा जा सकता है। जानकारी के मुताबिक, फैक्ट्री के अंदर किसी के फंसे होने की सूचना नहीं है। हजारों पाइप आग की चपेट में आ गए हैं। प्लास्टिक पाइप होने के चलते आग को बुझाने में दमकल कर्मियों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

भेजी गईं दमकल की 25 गाड़ियां
आग की सूचना पर पीथमपुर, इंदौर, धार व बदनावर से दमकल की करीब 25 गाड़ियां भेजी गईं हैं। नगर पुलिस अधीक्षक अमित कुमार मिश्रा व तीनों थाने का पुलिस बल भी मौके पर मौजूद है। प्राथमिक जानकारी के अनुसार फैक्ट्री में किसी के फंसे होने की सूचना नहीं है। मजदूरों की पहली शिफ्ट सुबह 8 बजे शुरू होती है, इसलिए घटना के वक्त फैक्ट्री में कोई नहीं था। सिग्नेट फैक्ट्री के पास ही एक केमिकल फैक्ट्री भी है, आग को बढ़ता देख यहां भी विशेष सतर्कता बरती जा रही है।

अबतक नहीं पाया जा सका आग पर काबू
खबर लिखने तक आग पर काबू नहीं पाया जा सकता है। आग बुझाने के लिए 25 से अधिक दमकल वाहन मौके पर मौजूद हैं। स्थानीय प्रशासन ने बिजली सप्लाई बंद कर दी गई है, साथ ही आग को काबू करने के लिए रेत और गीली रेत का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। जेसीबी की मदद से फैक्ट्री की कुछ दीवारों को तोड़कर पानी डाला जा रहा है, ताकि किसी भी प्रकार से आग पर काबू पाया जा सके। सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस बल के साथ-साथ एनडीआरएफ की टीम भी मौके पर मौजूद है।

पीथमपुर एसडीएम शाश्वत शर्मा ने बताया कि फैक्ट्री में बेहद ज्वलनशील सामग्री भरी पड़ी है, इसलिए आग बुझाने में मुश्किलें आ रहीं हैं। गीली रेत और फोम डालकर भी आग फैलने से रोकने के प्रयास किए जा रहे हैं। हमारी कोशिश है कि प्लास्टिक जहां है, वहीं जल जाए।

रिपोर्ट- विजेन्द्र यादव