फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशमहाकाल की नगरी में टूटेगा राम की नगरी अयोध्या का रिकॉर्ड, गिनीज बुक में दर्ज होगी यह कामयाबी

महाकाल की नगरी में टूटेगा राम की नगरी अयोध्या का रिकॉर्ड, गिनीज बुक में दर्ज होगी यह कामयाबी

बता दें कि गुड़ी पड़वा और उज्जैन के गौरव दिवस पर 30 लाख दीपक एक साथ प्रज्वलित किए जाएंगे। एक साथ 30 लाख दीपक जलाने का एक नया विश्व रिकॉर्ड अयोध्या के 22 लाख 23 हजार के रिकॉर्ड को तोड़कर बनेगा।

महाकाल की नगरी में टूटेगा राम की नगरी अयोध्या का रिकॉर्ड, गिनीज बुक में दर्ज होगी यह कामयाबी
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,उज्जैनMon, 05 Feb 2024 05:03 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश की महाकाल की नगरी उज्जैन क्या राम की नगरी अयोध्या में बने दीप प्रज्वलित करने के रिकॉर्ड को तोड़ पाएगी? यह सवाल इसलिए उठ रहे हैं क्योंकि ऐसी ही कुछ तैयारी उज्जैन की महाकाल नगरी में की जा रही है। यहां 'शिव ज्योति अर्पणम' कार्यक्रम में 30 लाख दीप प्रज्वलित करने की भव्य तैयारी की जा रही है। यह कार्यक्रम उज्जैन में विक्रमोत्सव के दौरान गुड़ी पड़वा पर होगा। उज्जैन के अधिकारी के साथ जनप्रतिनिधि और निगम कर्मचारियों सहित कई कर्मचारी इस कार्य में लगे हुए हैं। गौरतलब है कि साल 2021 में राम की नगरी अयोध्या में 9 लाख 41 हज़ार 551 दीप प्रज्वलित कर रिकॉर्ड बनाया गया था। इस रिकॉर्ड को साल 2022 में महाकाल की नगरी ने इस रिकॉर्ड को तोड़ दिया था। इस बार दीपोत्सव में 30 लाख के लगभग दीप प्रज्वलित कर नया विश्व रिकॉर्ड बनाने का प्रयास किया जा रहा है। 30 लाख दीपक एक साथ जलने से अयोध्या का 22 लाख 23 हजार दिए का रिकॉर्ड भी टूट जाएगा।

उज्जैन की महाकाल नगरी हिन्दू नववर्ष पर आयोजित विक्रम उत्सव में 30 लाख दीपक प्रज्वलित करने का रिकॉर्ड बनाने जा रही है। प्रदेश के  मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने इस विक्रम उत्सव को एक माह तक मनाए जाने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान उत्सव में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। जिसमें खास तौर से गुड़ी पड़वा और उज्जैन के गौरव दिवस पर 30 लाख दीपक एक साथ प्रज्वलित किए जाएंगे। एक साथ 30 लाख दीपक जलाने का एक नया विश्व रिकॉर्ड अयोध्या के 22 लाख 23 हजार के रिकॉर्ड को तोड़कर बनेगा।

दीपोत्सव को लेकर कलेक्टर ने अधिकारी जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ बैठक की है। इसमें विधायक अनिल जैन कालूहेड़ा, महापौर मुकेश टटवाल, निगमायुक्त आशीष पाठक, यूडीए सीईओ संदीप सोनी मौजूद थे। नगर निगम और स्मार्ट सिटी के सीईओ आशीष पाठक ने बताया कि पिछले वर्ष 18 लाख दीप प्रज्वलित किए थे। अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा के पूर्व 22 लाख 23 हजार दीपक लगाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया गया है। अब उज्जैन में गौरव दिवस पर दीपोत्सव में इस वर्ष लगभग 30 लाख दीपकों का लक्ष्य किया गया है।

दीपक प्रज्वलित करने के इस रिकॉर्ड को गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया जाएगा। दीप प्रज्वलन शिप्रा नदी के प्रमुख तटों पर किया जाएगा। इस बार अधिक दीपों के लिए नए सेक्टर की आवश्यकता है। कलेक्टर ने बैठक में दीपोत्सव के लिए अभी से कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए हैं। पूरे आयोजन को जीरो वेस्ट रखा गया है। दीए-बाती और तेल को उपयोग में लाया जाएगा। 

अयोध्या में बना विश्व रिकॉर्ड

श्री राम की नगरी अयोध्या में दीपोत्सव की शुरुआत साल 2017 में सीएम आदित्यनाथ योगी की नेतृत्व वाली सरकार ने की थी। इसके शुरुआती दौर में 51 हज़ार दीपक प्रज्वलित किये गए थे। उसके बाद 2019 में 4 लाख 10 हज़ार, 2020 में 6 लाख से अधिक जबकि साल 2021 में 9 लाख से अधिक दीप प्रज्वलित कर रिकॉर्ड बनाया गया था।  

इसके बाद साल 2022 में 17 लाख 50 हज़ार दीप प्रज्वलित कर नया रिकॉर्ड बनाया गया। अब महाकाल की नगरी उज्जैन, अयोध्या में बने साल 2023 के रिकॉर्ड को तोड़ने की तैयारी में हैष साल 2023 में अयोध्या में 22 लाख 23 हज़ार दीप प्रज्वलित करने का रिकॉर्ड बना है जो कि गिनीज ऑफ़ बुक में दर्ज है। 

महाकाल की नगरी में रिकॉर्ड तोड़ने की तैयारी

निगम आयुक्त आशीष पाठक ने बताया की इस वर्ष गुड़ी पड़वा पर 30 लाख दीपक प्रज्वलित करने का रिकॉर्ड बनाने जा रही है। इसके लिए बैठक कर तैयारी की जा रही है। इस बार अन्य घाटों की आवश्कता होगी। पूरी महाकाल की नगरी को दीपक से सजाया जाएगा। पिछला जो रिकॉर्ड है वह 18 लाख 36 हज़ार दीपक प्रज्वलित करने का रिकॉर्ड बनाया गया था। इस बार उससे ज्यादा दीप प्रज्वलित कर अयोध्या में बने रिकार्ड को तोड़ने का प्रयास करेंगे। पूरे शहर को सजाया जाएगा। क्षिप्रा नदी के राम घाट और जो भी अन्य घाट हैं उन सभी जगहों पर दीप प्रज्वलित किए जाएंगे। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें