फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशमध्य प्रदेश में तेज बारिश और ओले पड़ने का ऑरेंज और यलो अलर्ट, फसलें बर्बाद होने का खतरा

मध्य प्रदेश में तेज बारिश और ओले पड़ने का ऑरेंज और यलो अलर्ट, फसलें बर्बाद होने का खतरा

Madhya Pradesh Weather Update: मध्य प्रदेश में इस पूरे महीने अब मौसम खराब रहेगा। मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में तेज बारिश और ओले पड़ने का ऑरेंज और यलो अलर्ट जारी किया है।

मध्य प्रदेश में तेज बारिश और ओले पड़ने का ऑरेंज और यलो अलर्ट, फसलें बर्बाद होने का खतरा
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,भोपालSun, 25 Feb 2024 03:12 PM
ऐप पर पढ़ें

Madhya Pradesh Weather Update: ऐसे में जब फसलें पकने की ओर हैं, मौसम के बिगड़े मिजाज ने किसानों की टेंशन बढ़ा दी है। मध्य प्रदेश में एकबार फिर मौसम के खराब होने की चेतावनी जारी की गई है। मौसम विभाग की मानें तो मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में ओले पड़ सकते हैं। मध्य प्रदेश में पूरे महीने मौसम के खराब रहने का अलर्ट जारी किया गया है। खासकर पूर्वी मध्य प्रदेश में तेज आंधी पानी और ओलावृष्टि का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग की यह चेतावनी किसानों को डरा रही है।

किसानों का कहना है कि ओले पड़ने से गेहूं और सरसों की फसलों को भारी नुकसान पहुंच सकता है। मौसम विभाग की मानें तो एक साथ कई वेदर सिस्टम के एक्टिव हो जाने से मौसम में बड़ा उलटफेर देखा जा रहा है। 26 फरवरी से एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ पश्चिमी हिमालय क्षेत्र को प्रभावित कर सकता है। यही नहीं राजस्थान के मध्य भागों और आसपास के इलाकों पर एक साइक्लोनिक सिस्टम भी एक्टिव है।

मराठवाड़ा और इससे आस-पास के इलाकों पर भी एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन एक्टिव है। एक ट्रफ रेखा मराठवाड़ा से लेकर आंतरिक कर्नाटक से दक्षिण तमिलनाडु तक फैली है। दक्षिणी छत्तीसगढ़ पर भी एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन का क्षेत्र बना हुआ है। इन सभी वेदर सिस्टम के प्रभाव से मध्य भारत में बारिश का माहौल बन रहा है। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि कुछ इलाकों में ओलावृष्टि की भी संभावना बन रही है।

यही नहीं इसके बाद एक और पश्चिमी विक्षोभ 29 फरवरी से पश्चिमी हिमालय क्षेत्र पर दस्तक देगा। यह 1 मार्च से 4 मार्च के दौरान मैदानी इलाकों को प्रभावित करेगा। इसकी तीव्रता 2 और 3 मार्च को चरम पर होगी। इससे पहाड़ों के साथ उत्तर पश्चिमी भारत मैदानी इलाकों में मौसम खराब होगा। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि 26 से 28 फरवरी के दौरान पूर्वी मध्य प्रदेश में गरज चमक के साथ छिटपुट हल्की से मध्यम बारिश और ओलावृष्टि होगी जबकि पश्चिमी मध्य प्रदेश में 27 तारीख को बारिश होगी। 

मौसम विभाग ने 26 फरवरी को पूर्वी और पश्चिमी मध्य प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में तेज हवाओं एवं गरज-चमक के साथ हल्की से मध्यम बारिश की चेतावनी दी है। वहीं पूर्वी मध्य प्रदेश में इस दौरान बारिश के साथ कुछ इलाकों में ओले भी पड़ सकते हैं।

मौसम विभाग की ओर से पूर्वी और पश्चिमी मध्य प्रदेश में 26 फरवरी के लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है। मध्य प्रदेश में 27 फरवरी को भी मौसम खराब रहेगा। इस तारीख को पूर्वी और पश्चिमी मध्य प्रदेश में आंधी पानी और कुछ इलाकों में ओले पड़ने की चेतावनी जारी की गई है। पश्चिमी मध्य प्रदेश में यलो तो पूर्वी मध्य प्रदेश में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। 28 फरवरी को पूर्वी मध्य प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश का यलो अलर्ट जारी किया गया है। इस दौरान कुछ इलाकों में ओले भी पड़ सकते है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें