फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशजो तिरंगे और राष्ट्रगान का अपमान करेगा..; मदरसों पर MP के मंत्री का बड़ा बयान

जो तिरंगे और राष्ट्रगान का अपमान करेगा..; मदरसों पर MP के मंत्री का बड़ा बयान

मध्य प्रदेश में मदरसों को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। एक बार फिर प्रदेश के आदिम जाति कल्याण मंत्री विजय शाह ने मदरसों पर बड़ा बयान दिया है। कहा कि सवाल तिरंगे और राष्ट्रगान का है।

जो तिरंगे और राष्ट्रगान का अपमान करेगा..; मदरसों पर MP के मंत्री का बड़ा बयान
madarsa survey
Subodh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,खंडवाFri, 21 Jun 2024 02:41 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश में मदरसों को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। एक बार फिर मध्य प्रदेश के आदिम जाति कल्याण मंत्री विजय शाह ने खंडवा में मदरसों पर बड़ा बयान दिया है। विजय शाह ने कहा कि सवाल मदरसे का नहीं है। सवाल शिक्षण संस्थान का, सवाल राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे के मान सम्मान का, सवाल भारत के राष्ट्र गान का है।

मंत्री विजय शाह ने खंडवा के एक निजी स्कूल का जिक्र करते हुए कहा कि यह क्रिश्चियन स्कूल है। यहां जन गण मन और झंडा वंदन होता है। देश में कोई भी शिक्षण संस्थान तिरंगे का अपमान करे, जन गण मन नहीं गाए तो फिर उनकी बहुत सी चीजें बंद हो जाएगी। बता दें कि कुछ समय पहले मंत्री विजय शाह ने हर स्कूलों और मदरसों में राष्ट्रगान आवश्यक रूप से गाए जाने की मांग की थी। हालांकि उनकी इस मांग को स्कूल शिक्षा मंत्री खारिज कर चुके हैं। 

एक बार फिर मंत्री विजय शाह ने मदरसों को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। मंत्री विजय शाह में खंडवा में एक कार्यक्रम के बाद मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि सवाल सिर्फ मदरसों का नहीं है। सवाल तो शैक्षणिक संस्था का है। देश के अंदर कोई भी शिक्षण संस्था हो, अगर तिरंगे का अपमान करेंगी और जन गण मन नहीं गाएंगी तो उनकी बहुत सी चीजें बंद हो जाएंगी ।

दरअसल, मध्य प्रदेश के कैबिनेट मंत्री विजय शाह ने राष्ट्रगान को लेकर कहा था कि वह कुछ समय के लिए स्कूल शिक्षा मंत्री थे। उस समय उन्होंने आदेश निकाला था कि हर सरकारी और प्राइवेट स्कूल में झंडा वंदन होगा, जन गण मन होगा। लेकिन, उस आदेश में थोड़ी सी कमी रह गई थी। वह आदेश छठी से 12वीं तक के विद्यालयों के लिए था। कहा कि मुख्यमंत्री से वह आग्रह करते हैं कि इस आदेश को पहली कक्षा से लागू कर दिया जाए।
 
मंत्री ने कहा कि सभी शिक्षण संस्थानों में जन गण मन अनिवार्य हो। स्कूल में बच्चे जय हिन्द बोलें। प्रदेश में अभी छठी कक्षा से यह नियम है। सरकारी स्कूलों में इसका पालन हो रहा है, लेकिन कुछ निजी स्कूलों में पालन नहीं हो रहा है। अब पहली कक्षा से मध्य प्रदेश के साथ पूरे देश में यह लागू होना चाहिए। 

बता दें कि मंत्री विजय शाह की इस मांग को स्कूल शिक्षा मंत्री राव उदय प्रताप सिंह ने यह कहकर नकार दिया था कि किसी स्कूल या शिक्षण संस्थान में राष्ट्रगान और झंडा वंदन होने से कोई नहीं रोकता। यह प्रार्थना में होता है। इसके लिए अलग से कोई व्यवस्था की जरूरत नहीं है। यह व्यवस्था स्कूलों में है।