फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशमध्य प्रदेश: शव को लेकर थाने के सामने धरने पर बैठे दिग्विजय सिंह, आरोपियों की गिरफ्तारी पर अड़े

मध्य प्रदेश: शव को लेकर थाने के सामने धरने पर बैठे दिग्विजय सिंह, आरोपियों की गिरफ्तारी पर अड़े

 राजनगर में विवाद कम नहीं हो रहा। विक्रम सिंह (नातीराजा) के साथी कांग्रेस पार्षद सलमान खान की मौत के बाद, 20 व्यक्तियों पर  एफआईआर दर्ज  होने के बाद अब दिग्विजय सिंह उनकी गिरफ्तारी पर अड़ गए हैं।

मध्य प्रदेश: शव को लेकर थाने के सामने धरने पर बैठे दिग्विजय सिंह, आरोपियों की गिरफ्तारी पर अड़े
Aditi Sharmaलाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीSun, 19 Nov 2023 12:07 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के खजुराहो में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह कांग्रेस कार्यकर्ता सलमान खान की लाश के साथ थाने के सामने धरने पर बैठ गए हैं. उनके साथ सैकड़ो कांग्रेस कार्यकर्ता के अलावा मृतक सलमान के परिज और रिश्तेदार भी मौजूद रहे। खजुराहो थाने के सामने एक बड़ा सा पंडाल लगाया गया है जिसमें सभी लोग धरना दे रहे हैं। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि  जब तक आरोपियों की  गिरफ्तारी नहीं होती तक शव नही दफनाएंगे।
 
 राजनगर में राजनीतिक विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। विक्रम सिंह (नातीराजा) के साथी कांग्रेस पार्षद सलमान खान की मौत के बाद, आईपीसी की धारा 302,307 सहित कई धाराओं में 20 व्यक्तियों पर  एफआईआर दर्ज  होने के बाद अब दिग्विजय सिंह आरोपियों की गिरफ्तारी पर अड़ गए हैं। उनके साथ छतरपुर पूर्व विधायक आलोक चतुर्वेदी, महाराजपुर पूर्व विधायक नीरज दीक्षित सहित हजारों लोग गिरफ्तारी पर अड़े हैं। दिग्विय सिंह देर रात खजुराहो थाने के सामने हजारों समर्थकों सहित टेंट में खाट पर ही सो गए |

दिग्विजय सिंह ने कहा कि मैं भी मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री रहा हूं लेकिन मैंने कभी भी किसी भी भाजपा कार्यकर्ता के साथ द्वेष भावना के साथ कोई भी कार्यवाही नहीं की। भाजपा का ये काम बेहद निंदनीय है। परिवार के लोग और मैं तब तक यहां धरने पर बैठे रहेंगे जब तक की सलमान खान की हत्या करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर दिया जाता है।

एक ओर धरना दूसरी ओर रखा रहा शव

एक ओर मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह सैकड़ों समर्थकों एवं मृतक के परिजन और रिश्तेदार धरना दे रहे थे तो दूसरी ओर शव रखा हुआ था। मौके पर भारी पुलिस बल मौजूद है। अनुमान लगाया जा रहा है कि धीरे-धीरे दिग्विजय सिंह की मौजूदगी में यह धरना और भी बड़ा हो सकता है। आसपास के कांग्रेस कार्यकर्ता छतरपुर पहुंच रहे हैं। ऐसे में जिला प्रशासन एवं पुलिस पर मानसिक रूप से दबाव बना हुआ है|

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें