फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशमध्य प्रदेश में रमेश मेंदोला ने दर्ज की सबसे बड़ी जीत, सबसे कम मतों से जीता कौन?

मध्य प्रदेश में रमेश मेंदोला ने दर्ज की सबसे बड़ी जीत, सबसे कम मतों से जीता कौन?

Madhya Pradesh Assembly Elections Result 2023: मध्य प्रदेश में दो विधायकों की जीत की चर्चा है। इसमें से एक हैं रमेश मेंदोला जिन्होंने सूबे में बड़ी जीत दर्ज की है। जानें सबसे कम मतों से जीता कौन?

मध्य प्रदेश में रमेश मेंदोला ने दर्ज की सबसे बड़ी जीत, सबसे कम मतों से जीता कौन?
Krishna Singhपीटीआई,भोपालMon, 04 Dec 2023 03:12 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव (Madhya Pradesh Assembly Election) में दो उम्मीदवारों की जीत की चर्चा हो रही है। इसमें से एक हैं भाजपा नेता रमेश मेंदोला, जिन्होंने इंदौर-2 सीट से 1,07,047 मतों के सबसे बड़े अंतर से जीत हासिल की है जबकि दूसरी ओर भाजपा के ही उम्मीदवार अरुण भीमावद ने शाजापुर सीट पर सबसे कम 28 मतों के अंतर से जीत दर्ज की है। सूबे में यदि बड़ी जीत की बात करें तो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी की महिला विधायक कृष्णा गौर ने भी एक लाख से ज्यादा मतों के अंतर से जीत दर्ज की है। 

राज्य विधानसभा चुनाव के नतीजे रविवार को घोषित किए गए। भाजपा ने राज्य विधानसभा में दो-तिहाई बहुमत हासिल किया। भाजपा ने सदन की 230 सीटों में से 163 सीटें जीती थी। कांग्रेस 66 सीटों के साथ दूसरे स्थान पर रही। इंदौर-2 सीट पर मेंदोला को 1,69,071 वोट मिले। रमेश मेंदोला (Ramesh Mendola) ने कांग्रेस के चिंटू चौकसे को हराया, जिन्होंने 62,024 वोट हासिल किए। वहीं कृष्णा गौर ने गोविंदपुरा सीट से कांग्रेस के रवींद्र साहू को 1,06,668 मतों से हराया। सीएम चौहान ने छठी बार बुधनी सीट 1,04,974 मतों के रिकॉर्ड अंतर से जीती। 

शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस उम्मीदवार विक्रम मस्तल शर्मा को शिकस्त दी। भाजपा के रामेश्वर शर्मा ने अपनी पारंपरिक हुजूर सीट 97,910 मतों के अंतर से जीती। चुनावों के दौरान प्रचार न करने के बावजूद, वरिष्ठ भाजपा नेता गोपाल भार्गव (71) अपनी पॉकेट-बोरो रेहली सीट से लगातार नौवीं बार 72,800 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की। भाजपा की महिला नेता मालिनी गौड़ ने अपनी पारंपरिक इंदौर-4 सीट 69,837 मतों के अंतर से जीती। यह सीट पहले उनके पति और पूर्व मंत्री स्वर्गीय लक्ष्मण सिंह गौड़ ने जीती थी।

BJP की महिला नेता मालिनी गौड़ ने अपनी पारंपरिक इंदौर-4 सीट से 69,837 मतों के अंतर से जीत दर्ज की, जो पहले उनके पति और पूर्व मंत्री स्वर्गीय लक्ष्मण सिंह गौड़ ने जीती थी।

आलोट सीट से बीजेपी के डॉ. चिंतामणि मालवीय 68884 मतों से जीते। वहीं शाजापुर सीट से भाजपा के अरुण भीमावद महज 28 वोटों के मामूली अंतर से जीते। भीमावाद को 98,960 वोट मिले। उन्होंने कांग्रेस के हुकुम सिंह कराड़ा को हराया, जिन्हें 98,932 वोट मिले। उज्जैन जिले की महिदपुर सीट पर कांग्रेस के दिनेश जैन ने बीजेपी के बहादुर सिंह चौहान को 290 मतों से हराया। धार जिले की धरमपुरी सीट से बीजेपी के कालूसिंह ठाकुर ने कांग्रेस के पांचीलाल मेड़ा को 356 वोटों से हराया। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें