DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   मध्य प्रदेश  ›  मध्य प्रदेश: ब्लैक, व्हाइट के बाद अब ग्रीन फंगस का खतरा, इंदौर में एक शख्स संक्रमित
मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश: ब्लैक, व्हाइट के बाद अब ग्रीन फंगस का खतरा, इंदौर में एक शख्स संक्रमित

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीPublished By: Nootan Vaindel
Wed, 16 Jun 2021 06:58 AM
मध्य प्रदेश: ब्लैक, व्हाइट के बाद अब ग्रीन फंगस का खतरा, इंदौर में एक शख्स संक्रमित

कोरोना वायरस से ठीक हुए कई मरीजों में ब्लैक फंगस और व्हाइट फंगस के बाद येल्लो फंगस नाम की बला भी सामने आई। इन सब के बाद अब ग्रीन फंगस नाम का खतरनाक संक्रमण सामने आया है। इंदौर में एक वरिष्ठ डॉक्टर ने बताया है कि कोरोना से ठीक हुए एक मरीज में ग्रीन फंगस की सूचना मिली है। डॉक्टर ने कहा कि उसे इलाज के लिए एयर एम्बुलेंस के जरिए मुंबई शिफ्ट कर दिया गया है।  

श्री अरबिंदो इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (SAIMS) के छाती रोग विभाग के प्रमुख डॉ रवि डोसी ने कहा कि कोरोना से ठीक हुए मरीज का परीक्षण इस संदेह में किया गया कि कहीं उसे ब्लैक फंगस न हो. लेकिन इसके बजाय उनके साइनस, फेफड़े और रक्त में ग्रीन फंगस (एस्परगिलोसिस) का संक्रमण पाया गया। डॉ दोसी ने कहा कि कोविड-19 से ठीक हुए लोगों में ग्रीन फंगस संक्रमण की प्रकृति अन्य रोगियों से अलग है या नहीं, इस पर और अधिक रिसर्च की जरूरत है।

इस आदमी को लगभग दो महीने पहले एक स्थानीय अस्पताल लाया गया था, उस दौरान इसके फेफड़े लगभग 100 प्रतिशत कोरोना से संक्रमित थे. मरीज को एक महीने तक आईसीयू में रखा गया वहीं इसका इलाज किया था। डॉक्टर ने कहा, "मरीज ठीक हो गया। लेकिन फिर उसे नाक से खून बहने लगा और तेज बुखार होने लगा। वजन कम होने के कारण वह काफी कमजोर भी हो गया था।"

संबंधित खबरें