फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मध्य प्रदेशसतना: एक पति छोड़ दूसरे से रचाई शादी, फिर तीसरे से फेसबुक पर हुआ प्यार... प्रेमी ने किया कत्ल

सतना: एक पति छोड़ दूसरे से रचाई शादी, फिर तीसरे से फेसबुक पर हुआ प्यार... प्रेमी ने किया कत्ल

एक महिला पहले पति को छोड़कर दूसरे से शादी रचाती है इसके बाद भी उसे एक अन्य युवक से इश्क़ हो जाता। यह फेसबुकिया प्रेमी महिला को पहले जहर देता और फिर बेहोशी की हालत में गला घोट देता है। इस हत्याकांड का...

सतना: एक पति छोड़ दूसरे से रचाई शादी, फिर तीसरे से फेसबुक पर हुआ प्यार... प्रेमी ने किया कत्ल
Vishva Gauravलाइव हिंदुस्तान,सतना।Sat, 01 Jan 2022 07:35 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/

एक महिला पहले पति को छोड़कर दूसरे से शादी रचाती है इसके बाद भी उसे एक अन्य युवक से इश्क़ हो जाता। यह फेसबुकिया प्रेमी महिला को पहले जहर देता और फिर बेहोशी की हालत में गला घोट देता है। इस हत्याकांड का खुलासा सतना पुलिस ने किया। 

फेसबुक के जरिए प्यार का एक बार फिर खौफनाक अंत हुआ। जो महिला अपनी प्रेमी के लिए छत्तीसगढ़ से स्कूटी चलाकर मध्य प्रदेश के सतना जिले के मझगवां पहुंची थी, उसे उसके प्रेमी ने अपने दोस्त के साथ मिलकर पहले जहर दिया फिर गला घोंटकर हत्या कर दी। महिला की लाश मझगवां के गांव पटनी के निमहाई डाडी जंगल में पाई गई थी।  बीते 27 दिसम्बर को मिली लाश के बाद जब पुलिस ने मौके का अवलोकन किया तो कई साक्ष्य मिले। जिनके आधार पर पुलिस ने आरोपियों तक पहुंचने में सफलता पाई।

यूपी के रहने वाले हैं आरोपी
इस मामले में पुलिस ने आरोपी नंदू उर्फ नंदकिशोर यादव और अर्जुन पटेल को गिरफ्तार किया है। दोनों यूपी के बांदा जिले के रहने वाले हैं। इनके कब्जे से मृतका की नीले रंग की एक्टिवा स्कूटी और मृतका का मोबाइल बरामद कर लिया गया है। आरोपियों के खिलाफ अपराध क्रमांक 218/2021 धारा 302 पंजीबद्ध किया है। 

झोले में लिखे पते से मिला सुराग 
घटनास्थल पर मिले झोले के ऊपर नकोडा सोसायटी उतई छत्तीसगढ़ का पता लिखा हुआ था। इसी आधार पर उपनिरीक्षक रामबालक अहिरवार के नेतृत्व में एक टीम महिला की शिनाख्त के लिए छत्तीसगढ़ रवाना की गई। इधर, 30 दिसम्बर को मझगवां थाना प्रभारी के मोबाइल नम्बर पर छत्तीसगढ़ के बालोद जिले से एक अज्ञात व्यक्ति का फोन आया। जिसने थाना प्रभारी को  बताया कि आपके थाना में अज्ञात महिला का शव मिला है वह मेरी भाभी शीशम बाई बंजारे उर्फ अमिरिका बाई है। वह गोरकापार पंगरी जिला बालोद छत्तीसगढ़ की रहने वाली है। 22 दिसम्बर को स्कूटी लेकर घर से निकली थी तब से लापता है।

मोबाइल फोन से जुड़े तार
पुलिस ने मृतका के मोबाइल नंबर की कॉल डिटेल निकाली और आरोपी के साथ नजदीकियों का सच सामने आ गया। पुलिस ने संदेह के आधार पर नंदू और अर्जुन को हिरासत में लिया। बाद में दोनों ने अपना जुर्म कबूलते हुए बताया कि महिला जबरदस्ती शादी करने और एक साथ रहने की जिद कर रही थी, जिसकी वजह से पहले उन्होंने महिला को जहर दिया फिर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी नंदू मृतका की स्कूटी और मोबाइल लेकर फरार हो गए। 

पहले जहर दिया, फिर गला घोंटा 
पुलिस के मुताबिक, आरोपी नंदू ने महिला को अपने रास्ते से हटाने के लिये साथी अर्जुन के साथ मिलकर  24 दिसंबर को घटना को अंजाम दिया। नंदू ने पहले महिला के खाने में जहर मिला कर मृतका को खिलाया, लेकिन जब जहर से उसकी मौत नहीं हुई तो उसने महिला का गला घोटकर उसकी हत्या कर दी। शादी शुदा होने के बाद भी प्रेमी से शादी करने और साथ रहने के लिए जिद करने के कारण मौत के घाट उतार दी गई अमिरिका बाई ने बालोद जिले के ही युवक भागवत से दूसरा ब्याह रचाया था। इससे पहले महिला ने पहला ब्याह संजय शाह से किया था। इस बीच उसकी ऑनलाइन मुलाकात बांदा के नंदू से हो गई। दोनों ने फेसबुक में प्रेम स्वीकार कर लिया और एक-दूसरे से मोबाइल पर बात करने लगे। इसके बाद नंदू कई बार अमिरिका बाई से मिलने छत्तीसगढ़ भी जा चुका था। नंदू भी शादीशुदा है, इसी वजह से उसने महिला को जिद करने पर रास्ते से हटा दिया।

epaper