फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशजहां नदी नहीं, वहां भी पुल बनाने का वादा... कमलनाथ का सीएम शिवराज पर तंज; लगाया घर-घर शराब पहुंचाने का आरोप

जहां नदी नहीं, वहां भी पुल बनाने का वादा... कमलनाथ का सीएम शिवराज पर तंज; लगाया घर-घर शराब पहुंचाने का आरोप

MP chunav: कांग्रेस नेता कमलनाथ ने सीएम शिवराज पर लोगों की समस्याओं पर ध्यान नहीं देने का आरोप लगाते हुए कहा, 'सरकार चलाने और बड़ी बड़ी बातें करने में बहुत अंतर है।'

जहां नदी नहीं, वहां भी पुल बनाने का वादा... कमलनाथ का सीएम शिवराज पर तंज; लगाया घर-घर शराब पहुंचाने का आरोप
Devesh Mishraभाषा,सिवनीSun, 22 Oct 2023 07:03 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस की मध्यप्रदेश इकाई के अध्यक्ष कमलनाथ ने रविवार को दावा किया कि राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान चुनाव के इस मौसम में घोषणाओं की झड़ी लगा चुके हैं और यहां तक कि जहां कोई नदी नहीं है वहां भी पुल बनाने का वादा कर रहे हैं। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए 17 नवंबर को मतदान होगा और मतगणना तीन दिसंबर को होगी।

कमलनाथ ने सिवनी निर्वाचन क्षेत्र से पार्टी उम्मीदवार आनंद पंजवानी के समर्थन में गोपालगंज में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा, 'शिवराज सिंह चौहान एक के बाद एक वादे कर रहे हैं और अब तक उन्होंने (जनता के कल्याण के लिए) 22,000 से अधिक घोषणाएं की हैं।'

पंजवानी का मुकाबला भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मौजूदा विधायक दिनेश राय से है। पूर्व मुख्यमंत्री ने लोगों से विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी को वोट देने का आग्रह किया। उन्होंने कहा, 'वह (चौहान) चुनावी मौसम में वादे करने में लगे हैं। जहां नदी नहीं है, वहां भी पुल बनाने का वादा कर रहे हैं।' कमलनाथ ने कहा कि भाजपा ने लोगों को महंगाई, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार दिया है। उन्होंने आरोप लगाया, 'एक और बात, उनकी सरकार ने घर-घर शराब पहुंचा दी है, जो उनकी बड़ी उपलब्धि है।'

कांग्रेस नेता ने सीएम शिवराज पर लोगों की समस्याओं पर ध्यान नहीं देने का आरोप लगाते हुए कहा, 'सरकार चलाने और बड़ी बड़ी बातें करने में बहुत अंतर है।' उन्होंने आरोप लगाया कि चौहान के नेतृत्व में मध्य प्रदेश में अब '50 प्रतिशत कमीशन' राज कायम है और राज्य में सभी अवैध काम 50 प्रतिशत कमीशन देकर किये जा रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि 50 एकड़ जमीन वाले भी 50 प्रतिशत कमीशन देकर आसानी से गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) कार्ड प्राप्त कर सकते हैं। गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में 17 नवंबर को सभी 230 सीटों के लिए वोटिंग होनी है। चुनाव के नतीजे 3 दिसंबर को घोषित किए जाएंगे।