फोटो गैलरी

Hindi News मध्य प्रदेशक्या शिवराज से नाराज है पार्टी का शीर्ष नेतृत्व? विजयवर्गीय ने दिया जवाब, बताया जीते तो कौन होगा सीएम

क्या शिवराज से नाराज है पार्टी का शीर्ष नेतृत्व? विजयवर्गीय ने दिया जवाब, बताया जीते तो कौन होगा सीएम

Madhya Pradesh Vidhan Sabha Chunav 2023: मध्य प्रदेश में काउंटिंग से पहले भाजपा और कांग्रेस के खेमे में सरगर्मियां बढ़ गई हैं। कैलाश विजयवर्गीय और अमित शाह के बीच बैठक के बाद अटकलों का बाजार गर्म है।

क्या शिवराज से नाराज है पार्टी का शीर्ष नेतृत्व? विजयवर्गीय ने दिया जवाब, बताया जीते तो कौन होगा सीएम
Krishna Singhलाइव हिंदुस्तान,भोपालSat, 02 Dec 2023 04:14 PM
ऐप पर पढ़ें

विधानसभा चुनाव की मतगणना को लेकर मध्य प्रदेश में तैयारी अंतिम दौर में हैं। तीन दिसंबर को मतगणना के साथ ही सूबे में चुनाव लड़ने वाले लगभग ढाई हजार से ज्यादा प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला हो जाएगा। सूबे के एग्जिट पोल्स के नतीजों के बाद से कांग्रेस और भाजपा दोनों के खेमों में सक्रियता और सरगर्मी अचानक से बढ़ गई है। मध्य प्रदेश कांग्रेस प्रमुख कमलनाथ ने पार्टी कार्यकर्ताओं को पूरी तरह से मुस्तैद रहने को कहा है। वहीं राजधानी दिल्ली में शुक्रवार को भाजपा के खेमे में चौंकाने वाली सरगर्मियां देखी गईं। दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने गृह मंत्री अमित शाह के साथ एक बैठक की। इसकों लेकर अटकलों का बाजार गर्म हो गया है। 

कुछ रिपोर्टों में कहा गया है कि कैलाश विजयवर्गीय और अमित शाह के बीच यह बैठक एक बंद कमरे में हुई। बैठक के बाद अब कैलाश विजयवर्गीय का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा- मेरी अमित शाह के साथ बैठक में चुनाव के बारे में कोई चर्चा नहीं हुई। हमारी बात विकसित भारत संकल्प यात्रा को लेकर बातचीत हुई। उन्होंने दावा किया कि सरकार हमारी बनेगी। कांग्रेस को बहुमत नहीं मिलने वाला। कांग्रेस यदि 75 सीट भी पा जाए तो हैरानी होगी। यह चुनाव कांग्रेस हार चुकी है। यही कारण है कि उसने अभी से ईवीएम पर दोष मढ़ना शुरू कर दिया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की नाराजगी संबंधी अटकलों पर पूछे गए सवाल पर भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि पार्टी हाईकमान के पास इतनी फुरसत नहीं है कि वह किसी से नाराज हो। शिवराज सिंह चौहान को लेकर कोई नाराजगी नहीं है। मध्य प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी। इस सवाल पर कि यदि भाजपा जीतती है तो सीएम कौन बनेगा। कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि सीएम कौन बनेगा यह तय करने का काम दिल्ली में बैठे हमारे नेताओं का है। पार्टी में लोकतंत्र है। जीत के बाद विधायक दल की बैठक होगी। इस बैठक के बाद नेता का चुनाव होगा।

इस बीच एमपी कांग्रेस प्रमुख कमलनाथ ने कार्यकर्ताओं से मुस्तैद रहने की अपील की। उन्होंने कहा- यह उत्साह का समय है। कल मतगणना के साथ यह संपन्न हो जाएगी। आपने हर चरण पर मन, वचन और कर्म से पार्टी और लोकतंत्र की जो सेवा की है, वह अतुलनीय है। कल इसी एकाग्रता और समर्पण से मतगणना की प्रक्रिया भी हम सबको मिलकर संपन्न करानी है। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यालय में मैं स्वयं उपस्थित रहकर मतगणना की प्रक्रिया पर पूरी नजर रखूंगा और आप सबके सतत संपर्क में रहूंगा। 3 दिसंबर को मध्य प्रदेश में नया प्रभात होगा। विश्वास रखिए विजय श्री कांग्रेस का वरण करने जा रही है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें