फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News मध्य प्रदेशशराबबंदी वाले गुजरात में दारू ले जाने का खेल, 8 ट्रक में करोड़ों की शराब; MP से तस्करी

शराबबंदी वाले गुजरात में दारू ले जाने का खेल, 8 ट्रक में करोड़ों की शराब; MP से तस्करी

आबकारी विभाग को मुखबिर से सूचना मिली थी कि ग्वालियर से दमन जा रही शराब के कई ट्रकों का परमिट समाप्त हो चुका है। इस सूचना पर आबकारी प्रभारी बसंती भूरिया ने टीम बनाकर पिटोल चेक पोस्ट के पास पकड़ा।

शराबबंदी वाले गुजरात में दारू ले जाने का खेल, 8 ट्रक में करोड़ों की शराब; MP से तस्करी
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,झाबुआTue, 28 May 2024 02:06 PM
ऐप पर पढ़ें

मध्यप्रदेश में सोमवार देर रात आबकारी विभाग की टीम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए अवैध शराब की बड़ी खेप को जब्त किया है। 9 कंटेनरों में करोड़ों रुपये की शराब पकड़ी गई है। पुलिस के अनुसार शराब 15 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य की बताई जा रही है। शराब उच्च गुणवत्ता वाली है और इसे विशेष पैकेजिंग में छिपा कर ले जाया जा रहा था। मामले में आबकारी विभाग और पुलिस ने ट्रक चालक और सहायकों को पकड़ लिया है। बताया जा रहा है कि शराब कारोबारियों के हौसले इतने बुलंद है कि यहां हर तीसरे दिन वाहनों से अवैध शराब की खेप गुजरात भेजी जा रही है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि कितनी तादाद में प्रदेश शराब तस्करी का गढ़ बन गया है। बता दें कि गुजरात में शराबबंदी है।

बताया जा रहा है कि इस शराब को ग्वालियर से गुजरात और फिर दमन ले जाया जा रहा था। मिली जानकारी के अनुसार मुखबिर की सूचना पर बैतूल-अहमदाबाद हाईवे पर गुजरात की सीमा के पास झाबुआ जिले के पिटोल क्षेत्र में पुलिस और आबकारी विभाग ने करोड़ों रुपये की अवैध शराब पकड़ी है। इस कार्रवाई में करीब 15 करोड़ रुपये से अधिक की शराब, 8 ट्रक और एक कंटेनर जब्त किया गया है।

यह शराब ग्वालियर से भरकर दमन जा रही थी, लेकिन परमिट की अवधि समाप्त होने के कारण इसे पकड़ा गया। आबकारी विभाग को मुखबिर से सूचना मिली थी कि ग्वालियर से दमन जा रही शराब के कई ट्रकों का परमिट समाप्त हो चुका है। इस सूचना पर आबकारी प्रभारी बसंती भूरिया ने टीम बनाकर पिटोल चेक पोस्ट से पहले विशेष नाकाबंदी की। इस दौरान एक कंटेनर ओर 8 ट्रकों को रोककर तलाशी ली गई।

दमन के नाम पर बने थे परमिट

आबकारी ओर पुलिस विभाग द्वारा बड़े पैमाने पर जब्त की गई अवैध शराब को लेकर चौंकाने वाली जानकारी मिली है कि शराब के परमिट दमन के नाम पर बनाए गए थे। दमन में शराब बंदी नहीं है और रास्ता गुजरात से होकर जाता है। इसी का फायदा शराब कारोबारी उठाते हैं और एक वाहन के परमिट पर कई गाड़ियों में अवैध रूप से शराब भर कर ले जाते हैं। यह भी बताया जा रहा है कि यह पहला मौका नहीं है,जब एक साथ करोड़ों की शराब जब्त हुई। पूर्व में भी ऐसे कई वाहनों को पुलिस पकड़ चुकी है।

पिटोल चौकी प्रभारी पलवी भाबर ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि एक ट्रक जो ग्वालियर से दमन जा रहा है, उसका परमिट का समय खत्म हो गया है। जिसके आधार पर चौकी प्रभारी और उनकी टीम ने ट्रक को रोककर परमिट देखा तो परमिट खत्म हो चुका था। जिसके आधार पर ट्रक को जब्त कर चौकी लाया गया। ट्रक में मंहगी शराब मिली। पुलिस और आबकारी विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से मिली जानकारी में बताया गया है कि यह अभियान अवैध शराब के कारोबार को खत्म करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। इस कार्रवाई से न केवल अवैध कारोबार पर अंकुश लगेगा, बल्कि राजस्व की भी बचत होगी।

रिपोर्ट विजेन्द्र यादव